पश्चिम बंगाल में PM मोदी की रैली में भगदड़ जैसी स्थिति, कई घायल

जब मोदी मटुआ समुदाय की रैली को संबोधित कर रहे थे तब आयोजन स्थल के बाहर खड़े उनके सैकड़ों समर्थकों ने रैली ग्राउंड के अंदरुनी हिस्से में आने की कोशिश की जिससे भगदड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई.

पश्चिम बंगाल में PM मोदी की रैली में भगदड़ जैसी स्थिति, कई घायल
पीएम मोदी की रैली में खचाखच भरा था मैदान. फोटो ANI

ठाकुरनगर (पश्चिम बंगाल) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तरी 24 परगना जिले के ठाकुरनगर में अपनी रैली में भगदड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाने के बाद अपना भाषण बीच में ही बंद कर दिया. ऐसे स्थिति उत्पन्न होने से कई लोग घायल हो गए. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि कई महिलाएं और बच्चे घायल हो गए.

दरअसल जब मोदी मटुआ समुदाय की रैली को संबोधित कर रहे थे तब आयोजन स्थल के बाहर खड़े उनके सैकड़ों समर्थकों ने रैली ग्राउंड के अंदरुनी हिस्से में आने की कोशिश की जिससे भगदड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई.

मोदी ने उन लोगों से अपनी ही जगह पर बने रहने और आगे आने की कोशिश नहीं करने का आह्वान कर भीड़ को शांत करने का प्रयास किया. लेकिन उनके आग्रह का कोई असर नहीं पड़ा एवं समर्थक मंच के सामने खाली जगह में कुर्सियां फेंकने लगे ताकि अंदरुनी हिस्से में जगह बन पाए जबकि यह जगह महिला समर्थकों के लिए निर्धारित थी.

इस हो-हल्ला के बाद मोदी ने अचानक यह कहते हुए अपना भाषण बंद कर दिया कि उन्हें दूसरी रैली में जाना है. पुलिस अधिकारी के अनुसार भगदड़ जैसी स्थिति के दौरान कई महिलाएं और बच्चे बेहोश हो गए. उन्हें प्राथमिक उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया. इस घटना से मोदी की पिछले साल की 16 जुलाई की रैली याद आती है जब पश्चिम मिदनापुर जिले में मंच गिर गया था और कई लोग घायल हो गए थे.