close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बाड़मेर: कार रेस के दौरान मौत के बाद माहौल तनावपूर्ण, परिजनों का धरना जारी

वहीं, परिजन आयोजकों की गिरफ्तारी व 2 करोड़ के मुआवजे की मांग को लेकर अड़ गए हैं. मौके पर तनाव की स्थिति को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है. 

बाड़मेर: कार रेस के दौरान मौत के बाद माहौल तनावपूर्ण, परिजनों का धरना जारी
परिजन कंपनी के अधिकारियों की गिरफ्तारी व दो करोड़ के मुआवजे की मांग पर अड़ गए है.

बाड़मेर: जिले की समदड़ी थाना क्षेत्र के होतरड़ा गांव में इंडियन नेशनल रैली चैंपियनशिप के दौरान हादसे में पति-पत्नी व बेटे की मौत के बाद माहौल तनावपूर्ण बन गया है. 24 घंटे बीत जाने के बाद भी परिजन शव उठाने को तैयार नहीं है. वहीं, जिला मुख्यालय से पहुंचे अधिकारियों ने शनिवार देर रात तक वार्ता की, लेकिन वार्ता असफल रही. इस दौरान सिवाना विधायक हमीर सिंह भायल, कांग्रेस नेता पंकज प्रताप सिंह सहित बड़ी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद रहे. 

परिजनों की रिपोर्ट पर पुलिस ने 304 में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. वहीं, परिजन आयोजकों की गिरफ्तारी व 2 करोड़ के मुआवजे की मांग को लेकर अड़ गए हैं. मौके पर तनाव की स्थिति को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है.मृतकों के परिजनों से लगातार पुलिस व प्रशासन समझाइश कर रहा हैं. लेकिन अब तक शव उठाने को परिजन राजी नहीं हुए है.

अर्जुन अवार्डी कार रेसर ने मारी थी टक्कर
गौरतलब है कि मैक्स प्रियेन्स हरियाणा ने तीन दिवसीय रेसिंग चैंपियनशिप का आयोजन किया. इस दौरान अर्जुन अवार्डी कार रेसर गौरव सिंह गिल ने 150 की स्पीड से मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी. जिससे बाइक सवार नेमीचंद (42) सरगरा, उगिया उर्फ पुष्पा (40) व जितेन्द्र (14) की मौके पर ही मौत हो गई.

एक साथ तीन लोग हुए हादसे का शिकार
बताया जा रहा है कि हादसा इतना भयानक था कि एक के बाद एक तीन कार शवों को कुचलकर आगे निकल गए. इस हादसे ने पुलिस पर भी सवालियां निशान खड़ा कर दिया है. इसको लेकर पुलिस कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है. हालांकि परिजन कंपनी के अधिकारियों की गिरफ्तारी व दो करोड़ के मुआवजे की मांग पर अड़ गए है.