सूरत: महिला कर्मचारियों को निर्वस्त्र कर लिया गया फिजिकल टेस्ट!

सूरत कर्मचारी महामंडल द्वारा आरोप लगाया गया है की क्लर्क की भर्ती में महिला कर्मचारियों को परमानेंट करने के लिए निवस्त्र कर फिजिकल टेस्ट लिया गया है. 

सूरत: महिला कर्मचारियों को निर्वस्त्र कर लिया गया फिजिकल टेस्ट!
(फाइल फोटो)

सूरत: ट्रेनी महिला कर्मचारियों के फिजिकल टेस्ट को लेकर सूरत महानगर पालिका विवादों में है. पालिका द्वारा संचालित स्मीमेर हॉस्पिटल में मेडिकल प्रक्रिया पर विवाद छाया है. सूरत कर्मचारी महामंडल द्वारा आरोप लगाया गया है की क्लर्क की भर्ती में महिला कर्मचारियों को परमानेंट करने के लिए निवस्त्र कर फिजिकल टेस्ट लिया गया है. 

महिलाओं की गरिमा को ठेस पहुंचाने वाले कृत्य को लेकर विवाद बढ़ने के बाद स्मीमेर हॉस्पिटल के डीन ने जांच के आदेश दिए है. हाई पावर कमिटी बना कर 15 दिन में रिपोर्ट तैयार करने को कहा गया है. 

महिला कर्मचारियों ने फिजिकल टेस्ट में व्यक्तिगत सवाल करने का भी आरोप लगाया गया है.  म्युनिसिपल कमिश्नर को लिखित शिकायत करने पर यह मामला सामने आया है. 

सूरत कर्मचारी महामण्डल दवारा लिखित अर्जी में आरोप लगाया गया है कि एक कमरे में तकरीबन 10 महिलाओं को निवस्त्र कर फिजिकल टेस्ट लिया गया है.  अविवाहित महिलाओं का भी प्रेग्नेंसी टेस्ट लिया गया और व्यग्तिगत सवाल पूछे गए  थे. 

विवाद बढ़ने से सूरत महानगर पालिका संचालित स्मीमेर हॉस्पिटल के डीन ने कहा कि मामले की जांच के लिए तीन सदस्यों की कमेटी बनाई गई है जो कि 15 दिन में जांच पूरी कर अपनी रिपोर्ट देगी. हालांकि उन्होंने कहा कि वर्षों से यह फिजिकल टेस्ट चलता आ रहा है. अभी तक कोई शिकायत नहीं मिली  है, जो आरोप लगाया गया है वैसी कोई प्रक्रिया फिजिकल टेस्ट में होती नहीं है.