गढ़चिरौली हमले के 7 दिन बाद पुलिस को सड़क पर नक्सलियों का मिला मैसेज, इस शख्स को कहा शुक्रिया!

आमतौर पर नक्सली अपने खबरी की जानकारी कभी उजागर नहीं करते. पुलिस पार्टी भी नक्सलियों की जानकारी देने वाले की पहचान छिपाती है. ऐसे में रास्ते पर यह मैसेज किसने लिखा होगा इस बारे में अब कयास लगाए जा रहें हैं. 

गढ़चिरौली हमले के 7 दिन बाद पुलिस को सड़क पर नक्सलियों का मिला मैसेज, इस शख्स को कहा शुक्रिया!
नक्सलियों ने यहां कुरखेडा तालुका के दानापुर इलाके में इस वारदात को अंदाज दिया था.

गढ़चिरौली (आशीष अम्बाडे)​: महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में 1 मई को हुए नक्सली हमले के बाद पुलिस को कुछ ऐसा मिला है, जिसके एक बार फिर इलाके में हलचल बढ़ा दी है. मंगलवार को गढ़चिरौली से कुरखेड़ा जाने वाले रास्ते पर पुलिस को एक मैसेज लिखा मिला है. 

मैसेज कुछ इस तरह से लिखा गया है.  
"प्रफुल्ल दादा आपकी दी जानकारी के मुताबिक, कुरखेड़ा बम विस्फोट कामयाब रहा, इसी तरह जानकारी देते रहें. लाल सलाम."  लैंड माइन को जाने वाले रास्ते पर लिखे इस मैसेज के बाद पुलिस अलर्ट हो गई है. माना जा रहा है कि यह मैसेज नक्सलियों द्वारा ही लिखा गया है. 

मैसेज के बारे में स्थानीय लोगों ने कही ये बात
आमतौर पर नक्सली अपने खबरी की जानकारी कभी उजागर नहीं करते. पुलिस पार्टी भी नक्सलियों की जानकारी देने वाले की पहचान छिपाती है. ऐसे में रास्ते पर यह मैसेज किसने लिखा होगा इस बारे में अब कयास लगाए जा रहें हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि किसी ने मजाक के तौर पर यह मैसेज लिखा होगा. 

पुलिस ने की इलाके में छापेमारी
घटना के बाद पुलिस ने इस इलाके में छापेमारी और जांच शुरू कर दी है. हालांकि अभी तक की छापेमारी में उन्हें किसी तरह का कोई सुराग हाथ नहीं लगा है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि यह रास्ता आमतौर पर सुनसान रहता है, जिसके कारण किसने यह मैसेज लिखा होगा, यह कह पाना मुश्किल है. फिलहाल पुलिस प्रफुल्ल नाम के उस शख्स की तलाश में जुट गई है, जिसका नाम मैसेज में लिखा हुआ है.

बता दें कि नक्सलियों द्वारा किए गए एक आईईडी विस्फोट में 15 सुरक्षाकर्मियों सहित कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई थी. पुलिस सूत्रों ने बताया कि विस्फोट से पहले नक्सलियों ने एक सड़क निर्माण ठेकेदार के 25 वाहनों को जला दिया था. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.