कोरोना वायरस संक्रमण से देश में चौथी मौत, पंजाब में कोरोना से मौत का पहला केस

इस रिपोर्ट के आने के बाद सारा गांव सील कर दिया गया है.

कोरोना वायरस संक्रमण से देश में चौथी मौत, पंजाब में कोरोना से मौत का पहला केस

नई दिल्ली: कोरोना वायरस से देश में चौथी मौत की खबर आ रही है. अभी तक कोरोना के 169 मामले सामने आए हैं. जिनमें से 4 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना वायरस संक्रमण के चलते चौथी मौत का मामला पंजाब के नवां शहर में बंगा के गांव पठलावा का है. यहां करोना वायरस के कारण मौत होने की पुष्टि हुई है. यहां पीड़ित पिछले ही हफ्ते जर्मनी से वापस आए थे और बुधवार (18 मार्च) को उनकी मौत हुई थी. गुरुवार (19 मार्च) उनके ब्लड सैंपल से भेजी गई रिपोर्ट से करोना वायरस की पुष्टि हुई है.

इस रिपोर्ट के आने के बाद पूरा गांव सील कर दिया गया है.

पूरी दुनिया के लिए सबसे बड़ी ख़बर, मिल गई है कोरोना वायरस की दवा!
कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर दुनियाभर में मची दहशत के बीच एक राहत भरी खबर आ रही है. अगर गार्डियन (Guardian) अखबार की खबर सही माने तो कोरोना की दवाई मिल गई है. अखबार ने खबर दी है कि चाइना में मेडिकल अथॉरिटीज का कहना है कि जापान के नये टाइप के इंफ्लुएंजा ट्रीट करने की दवाई कोरोना वायरस को ट्रीट करने में इफेक्टिव साबित है रही  है.

इस दवाई का नाम है फेवीपिराविर (favipiravir). इसे एविगन (Avigan) के नाम से भी जाना जाता है.

चीन के साइंस एंड टेक्नॉलिजी मंत्री के अधिकारीसांग शीनमिन के मुताबिक वुहान और शेनजेन में इस दवाई का 340 लोगों पर क्लिनिकल ट्रायल किया गया है. ये अब तक की सबसे ज्यादा इफेक्ट करने वाली दवाई है. इसमें मरीज को 4 दिन में कोरोना पॉजिटिव से नेगेटिव होते देखा गया है. लोगों के फेफड़े  91% पर ठीक हो गए. जबकि बाकी ड्रग में ये इफेक्ट 62% देखा गया.

जापान में डॉक्टर भी इस दवाई का प्रयोग कर रहे हैं. जापान के डॉक्टर ये तो मानते हैं कि शुरुआती हल्के फुल्के लक्षण इस दवाई से ठीक किये जा सकते हैं पर बहुत गंभीर स्थिति होने पर ये दवाई काम नहीं करती . हालांकि HIV मरीज को दी जानू वाली दवाई के साथ भी इसी तरह की लिमिटेशन देखी गई है. हाल ही में जयपुर के डॉक्टर्स ने कोरोना पीड़ित को HIV ठीक करने वाली दवाईयां दी थी जिसके रिजल्ट थोड़े बेहतर आए थे.