close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झुंझुनूं : पुलिस की लापरवाही, चोरों के गैंग को चोरी करने में दिलवा रही कामयाबी

इससे पहले रविवार-सोमवार की रात को उदयपुरवाटी में भी इसी तरह की वारदात को अंजाम देने की कोशिश की गई थी. 

झुंझुनूं : पुलिस की लापरवाही, चोरों के गैंग को चोरी करने में दिलवा रही कामयाबी
प्रतीकात्मक तस्वीर.

संदीप केडिया, झुंझुनूं: राजस्थान के झुंझुनूं में अपराधियों के गिरोह के गिरोह वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. पुलिस और कानून का इनमें कोई खौफ नहीं है. झुंझुनूं में दो दिन से सक्रिय हुए एटीएम से पैसे चुराने वाले गिरोह धड़ाधड़ चोरियों को अंजाम दे रहे हैं. 

झुंझुनूं पुलिस की लापरवाही के कारण बीती रात को खेतड़ीनगर थाना क्षेत्र के गोठड़ा में लगी एक एटीएम से अज्ञात चोर करीब पांच लाख रुपये से ज्यादा का केस चुरा ले गए जबकि इससे पहले वाली रात को कुछ इसी तरह का प्रयास उदयपुरवाटी में किया गया था. उसमें पैसे बच जाने के कारण झुंझुनूं पुलिस लापरवाह हो गई और आरोपियों को ढूंढने के बजाय सो गई. चोर नहीं सोए और उन्होंने बिना किसी डर के दूसरे दिन भी अपना मिशन जारी रखा और आखिर कामयाबी हासिल को पुलिस को ठेंगा दिखाकर चल दिए.

जानकारी के मुताबिक, बीती रात को खेतड़ीनगर थाना इलाके के गोठड़ा गांव में कैंपर सवार अज्ञात चार लोगों ने यहां पर लगे इंडीकेश के एटीएम को गैस कटर से काटा और महज 12-13 मिनट में ही उसमें रखा सारा का सारा कैश लेकर चले गए. बताया जा रहा है कि इस एटीएम पांच से साढ़े पांच लाख रुपये तक हो सकते हैं. घटना की सूचना मिलने पर खेतड़ी डीएसपी और खेतड़ीनगर एसएचओ समेत अन्य पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे. 

उदयपुरवाटी में बच गए थे पांच लाख रुपये
इससे पहले रविवार-सोमवार की रात को उदयपुरवाटी में भी इसी तरह की वारदात को अंजाम देने की कोशिश की गई थी. जयपुर रोड पर सिंडिकेट बैंक के एटीएम को एक युवक ने रातभर काटने का प्रयास किया. करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद भी जब एटीएम नहीं कटा तो वह युवक अपने साथियों के साथ चला गया. इस वारदात में कोई नुकसान नहीं हुआ तो पुलिस भी चैन की नींद सो गई.

दोनों ही वारदातों में एक जैसी स्टाइल और समय भी एक ही
गोठड़ा में जो वारदात बीती रात को की गई है, वो रात को करीब दो बजे की गई है जबकि उदयपुरवाटी में इससे पहले वाली रात को जो वारदात की गई थी, वो भी सवा दो बजे के करीब की गई थी. दोनों का न केवल एक जैसा समय है बल्कि वहां पर भी गैस कटर से एटीएम को काटने की कोशिश की गई. यहां पर भी गैस कटर से ही एटीएम को काटा गया. इस तरह इन दोनों घटनाओं में एक ही गैंग के शामिल होने के कयास लगाए जा रहे हैं. 

पुलिस की लापरवाही का उठाया फायदा
पहले दिन वारदात होने के बाद भी पुलिस न तो सख्ती थी और न ही धरपकड़ के लिए दबिशें दी गई. इसके चलते चोरों के हौंसले बुलंद हो गए और उन्होंने बिना कोई आराम किए, दूसरे दिन ही अपने एटीएम से पैसे चोरी के मिशन को पूरा कर लिया.