VIDEO: बंगाल उपचुनाव के दौरान बवाल, TMC कार्यकर्ताओं पर BJP प्रत्याशी की पिटाई का आरोप

हालांकि, टीएमसी ने इस घटना में अपने कार्यकर्ताओं के शामिल होने से इनकार किया है.

VIDEO: बंगाल उपचुनाव के दौरान बवाल, TMC कार्यकर्ताओं पर BJP प्रत्याशी की पिटाई का आरोप
(फोटो साभार - ANI)

कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) के करीमपुर विधानसभा क्षेत्र में सोमवार को उपचुनाव के लिए मतदान जारी है. इस दौरान बीजेपी (BJP) प्रत्याशी जयप्रकाश मजूमदार को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर थप्पड़, लात, घूंसे मारे और सड़क किनारे झाड़ी में फेंक दिया. हालांकि, टीएमसी ने इस घटना में अपने कार्यकर्ताओं के शामिल होने से इनकार किया है.

यह घटना नदिया जिले के पिपुलखोला थाने के अंतर्गत खियाघाट इस्लामपुर प्राथमिक स्कूल बूथ के बाहर उस समय हुई, जब मजूमदार यह जानकारी मिलने पर बूछ पहुंचे कि बूथ से लगभग 10 मीटर की दूरी पर एक 'संदिग्ध' दावत के लिए एक घर में बड़ी मात्रा में भोजन पकाया जा रहा है.

मजूमदार मौजूदा प्रदेशबीजेपी उपाध्यक्ष हैं. उन्होंने 10-11 लोगों को खाना पकाने में व्यस्त पाया और इन लोगों ने दावा किया कि भोजन मतदान अधिकारियों के लिए तैयार किया जा रहा है. हालांकि, अधिकारियों ने इस तरह की किसी जानकारी से इनकार किया.

मजूमदार ने बूथ से बाहर आने के बाद प्रशासन के अधिकारियों और चुनाव अधिकारियों को सूचित किया. लेकिन जब वह सड़क पर खड़े थे, तभी कुछ लोगों ने उन्हें घेर लिया और विरोध करना शुरू कर दिया.

फिर प्रदर्शनकारियों ने उनका कॉलर पकड़ लिया और झाड़ी में धकेल दिया. जैसे ही मजूमदार ने खड़ा होने की कोशिश की एक अन्य प्रदर्शनकारी ने उन्हें लात मारकर झाड़ी के और अंदर धकेल दिया.

केंद्रीय बल के जवानों ने उन्हें बचाया और लाठी चार्ज करके प्रदर्शनकारियों को भगाया. मजूमदार ने कहा, "वे इसलिए भड़क गए, क्योंकि मैंने बूथ पर कब्जा करने की उनकी सुनियोजित साजिश का पदार्फाश कर दिया."

उन्होंने कहा, "मुझे बाह और पीठ पर चोटें आई हैं. यह चोट तो ठीक हो जाएगा, लेकिन असल सवाल यह है कि बंगाल को चोटों से कब मुक्ति मिलेगी, जिसे ममता बनर्जी (पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री) और उनके सहयोगियों द्वारा राज्य को पहुंचाया जा रहा है?

(इनपुट - एजेंसी से भी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.