close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आज राजसमंद के दौरे पर रहीं मंत्री ममता भूपेश, किया पोषण मेले का शुभारंभ

विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक में मंत्री ममता भूपेश ने प्लास्टिक मुक्त जिले का संदेश प्रचारित करने के उद्देश्य से कपड़े से बने बैग का भी विमोचन किया. 

आज राजसमंद के दौरे पर रहीं मंत्री ममता भूपेश, किया पोषण मेले का शुभारंभ
बैठक में मंत्री ममता भूपेश ने प्लास्टिक मुक्त जिले का संदेश प्रचारित किया.

राजसमंद: महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश शनिवार को राजसमंद के दौरे पर रहीं. यहां उन्होंने पोषण मेला का शुभारंभ किया और साथ ही महिला एवं बाल विकास के विभागीय अधिकारियों के साथ जिला कलेक्ट्री सभागार में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक ली. 

मंत्री ममता भूपेश के पहली बार राजसमंद पहुंचने पर जिले भर से आईं आशा सहयोगिनियों ने मंगल गीत गाकर स्वागत किया. मंत्री महोदया ने जिला कलेक्ट्री में पोषण मेला का शुभारंभ किया. इस मौके पर उन्होंने नन्ही बेटियों के जन्म दिवस पर उनके साथ केक काटकर नन्ही बच्चीयों को अपनी गोद में लिया. साथ ही उन माताओ का भी उपरना स्वागत किया. इस मौके पर मंत्री ममता भूपेश ने महिलाओं से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के स्लोगन के साथ उन्होंने बेटियों को आगे बढ़ाने की बात कही. उन्होंने कहा कि बेटियां किसी से कम नहीं है. कल्पना चावला, सुनीता विलियम्स, पीटी उषा, मेरीकॉम और सानिया मिर्जा की मिसाल हमारे सामने की बात की.

विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक में मंत्री ममता भूपेश ने प्लास्टिक मुक्त जिले का संदेश प्रचारित करने के उद्देश्य से कपड़े से बने बैग का भी विमोचन किया. बैग पर स्वच्छ भारत मिशन तथा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का संदेश अंकित किया हुआ है. साथ ही उन्होंने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के पोस्टर का विमोचन किया.

महिला एवं बाल विकास विभाग की उपनिदेशक विभाग से संबंधित प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की. प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना की प्रगति के बारे में उपस्थित अधिकारियों और आशा सहयोगिनियों को जानकारी दी गई. मंत्रीजी को जिले में आंगनबाडी केन्द्रों की जानकारी देते हुए बताया गया कि कुल 1167 आंगनबाड़ी केंद्र संचालित हैं. जिसमें से लगभग 1000 केंद्र विभाग के भवन में संचालित हैं तथा शेष के भवन बनने बाकी हैं. 

बैठक में माहवारी स्वच्छता प्रबंधन योजना, स्वयं सहायता समूह का गठन, प्रियदर्शिनी आदर्श स्वयं सहायता समूह योजना, बाल विवाह रोकथाम सहित विभिन्न बिंदुओं पर की चर्चा की गई. इस मौके पर अतिरिक्त जिला कलेक्टर राकेश कुमार जिला परिषद सीईओ निमिषा गुप्ता के साथ सैकड़ों आशा सहयोगिनी मौजूद रहीं.