Breaking News
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'लंबे गहरे सांस भरने और छोड़ने से शरीर के अंदर के सभी तंत्र ऊर्जावान हो जाते हैं.'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'जिसकी इम्युनिटी हाई होगी, उसे कोई रोग नहीं होगा'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '8 बजे नाश्ता, 12 बजे दोपहर का खाना, शाम को 8 बजे तक खाना खा लें'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'भगवान ने हमें इंसान बनाकर दुनिया की सबसे बड़ी दौलत दी है'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '6 घंटे की नींद जरूर पूरी करें और उससे ज्यादा सोएं भी नहीं'

Lockdown: 20 दिनों से CAR में रहने को मजबूर हैं कर्नाटक के दो व्यापारी, सरकार से मांग रहे मदद

लॉकडाउन के कारण दोनों व्यापारी गुजरात-महाराष्ट्र के बॉर्डर पर ही फंसे रह गए हैं.

Lockdown: 20 दिनों से CAR में रहने को मजबूर हैं कर्नाटक के दो व्यापारी, सरकार से मांग रहे मदद
दोनों व्यापारी पिछले 20 दिनों से इसी प्रकार कार में रह रहे हैं।

वलसाड (जय पटेल) : देश में लॉकडाउन (Lockdown) के चलते कई लोग अलग-अलग जगहों पर फंसे हुए हैं. लेकिन गुजरात (Gujarat) के वलसाड जिले से एक अनोखा किस्सा सामने आया है. जिसमें दो व्यापारी पिछले 20 दिनों से अपनी कार में फंसे गए हैं. ये दोनों व्यापारी दक्षिणा कन्नड़ के निवासी हैं जो सुपारी खरीदने के लिए राजकोट गए थे और लौटते समय लॉकडाउन लागू हो जाने से वे गुजरात-महाराष्ट्र के बॉर्डर पर ही फंसे रह गए हैं.

उन्होंने बताया कि दक्षिणा कन्नड़ के पुत्तुर तालुका से वो पहले राजकोट में सुपारी के किसान के पास सुपारी खरीद ने गए थे, जिसके बाद लौटते समय अचानक लॉकडाउन लागू हो गया और ये दोनों व्यापारी गुजरात और महाराष्ट्र के बॉर्डर पर वलसाड जिले में फंसे रह गए और अब 20 दिन हो चुके हैं. वे अपनी कार में रह रहे है. अब उनके पास ज्यादा पैसे भी नहीं बचे हैं. सेवा भावी संथाओं से खाना लेकर वे अपना पेट भर रहे हैं. 

दोनों व्यापारी अपनी कार में ही रहते हैं और कार में ही सोते भी हैं. साथ ही खाना पीना भी कार में ही करते हैं. इनका नाम आसिफ हुसैन और महमद ताकिन है. दोनों ने कर्नाटक सरकार से मदद की गुहार लगाईं है. दो दिन पहले दक्षिणा कन्नड़ जिले के डिप्टी कमिश्नर ने वलसाड जिला प्रशासन से मदद की गुहार लगाईं थी लेकिन यहां के प्रशासन से उन्हें अब तक कोई मदद नहीं मिली है. उनकी मांग है की गुजरात सरकार और वलसाड जिला प्रशासन उनकी मदद करें.

ये भी पढ़ें:- Lockdown के बीच Salman Khan लेने जा रहे हैं ऐसा फैसला, सुनकर फैंस भी हो जाएंगे गदगद