close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उदयपुर: अस्पताल में खराब व्यवस्था को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे युवा, रखी यह मांग

अधिकारियों द्वारा समझाईश कर 3 दिन में मांग पूरी करने का आश्वासन दिया गया लेकिन मांग पूरी नहीं हो जाने तक युवकों ने भूख हड़ताल पर बैठे रहने का निर्णय लिया है.

उदयपुर: अस्पताल में खराब व्यवस्था को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे युवा, रखी यह मांग
स्वास्थ्य केन्द्र में आ रहीं समस्याओं के चलते युवकों ने चिकित्सकों का किया था विरोध.

उदयपुर: जिले के मावली सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में व्यवस्थाओं के चरमराने का मामला सामने आया है. इसको लेकर कस्बे के 5 युवा मावली तहसील कार्यालय के बाहर 24 घण्टे से भूख हड़ताल पर बैठे हैं. मंगलवार को लगातार दुसरे दिन भी युवाओं की भूख हडताल जारी रही. 

मावली तहसील कार्यालय के बाहर भूख हड़ताल पर बैठे युवाओं के स्वास्थ्य की सुध हेतु अभी तक कोई मौके पर नहीं पहुंचा. यह पांचों युवा देर रात को तहसील कार्यालय के बाहर ही भूखे सोकर हठ कर मांगों को पूरा करने की बात अड़े हुए हैं. मावली सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आ रहीं समस्याओं को लेकर कुछ दिनों पूर्व मावली के युवकों द्वारा चिकित्सालय में विरोध जताया गया था. 

साथ ही व्यवस्था सुधार हेतु समय दिया गया था. मगर, 3 दिन बीत जाने के बाद भी व्यवस्थाओं में सुधार नहीं होने पर कस्बे के सुखाड़िया विश्वविद्यालय के पूर्व केन्द्रीय छात्र संघ अध्यक्ष भवानीशंकर बोरीवाल, लव गुर्जर, कैलाश जाट, किसान नेता भेरूलाल जाट, ललित सेन तहसील कार्यालय के बाहर भूख हड़ताल पर बैठ गए. इधर, मांगों को जायज ठहराते हुए कस्बे के नेहरू युवा केन्द्र मावली, बीजेपी युथ टीम, शिवदल मेवाड़, बजरंग दल, टीम कुलदीपसा, युथ कांग्रेस, युवामंच मावली, भीम आर्मी, ह्यूमन राईट्स, राजकीय महाविद्यालय मावली के विद्यार्थीयों सहित दर्जनों संगठनों ने भूख हड़ताल का समर्थन किया.

भूख हड़ताल को लेकर मावली के पूर्व विधायक दलीचंद डांगी, हेमराज जाट, मावली पूर्व सरपंच मोहनलाल जाट, भाजपा जिला मंत्री कुलदीपसिंह चुण्डावत सहित कई तहसील कार्यालय के बाहर भूख हड़ताल में पहुंचे तथा भूख हड़ताल पर बैठे पांचों युवाओं का समर्थन किया. अधिकारियों द्वारा समझाईश कर 3 दिन में मांग पूरी करने का आश्वासन दिया गया लेकिन मांग पूरी नहीं हो जाने तक युवकों ने भूख हड़ताल पर बैठे रहने का निर्णय लिया है.

यह है युवाओं की मांग
मावली सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को 24 घंटे शुरू रखने, चिकित्सालय हेतु नई 108 की व्यवस्था करने, ऑर्थोपेडिक डॉक्टर की नियुक्ति करने, चिकित्सालय में बंद पड़ी ईसीजी एवं एक्सरे मशीन को सुचारू रूप से चालू करने, चिकित्सालय में मेडिकल स्टाफ की संख्या बढ़ाने, चिकित्सालय में निरूशुल्क दवा वितरण केन्द्र 24 घंटे खुला रखने एवं चिकित्सालय में कार्यरत नर्सिंग जो नियमित एवं सुचारू रूप से नहीं आते हैं उन्हें निष्कासित करने की मांग की जा रही है.