अयोध्या: राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा संवेदनशील, 24 नवंबर का उद्धव ठाकरे का दौरा टला

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का 24 नवंबर को होने वाला अयोध्या दौरा टल गया है. रामजन्म भूमि परिसर की सुरक्षा की अतिसंवेदनशील होने की वजह से सुरक्षा एजेंसियों ने किसी भी राजनातिक दल को वहां जाने से मना किया है. 

अयोध्या: राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा संवेदनशील, 24 नवंबर का उद्धव ठाकरे का दौरा टला

नई दिल्ली/मुंबई: शिवसेना (Shiv Sena) प्रमुख उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) का 24 नवंबर को होने वाला अयोध्या (Ayodhya) दौरा टल गया है. रामजन्म भूमि (Ram Janmabhoomi) परिसर की सुरक्षा की अतिसंवेदनशील होने की वजह से सुरक्षा एजेंसियों ने किसी भी राजनातिक दल को वहां जाने से मना किया है. 

इसके अलावा महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन को लेकर अब तक स्थिति साफ नहीं होने की वजह से भी उद्धव ठाकरे अब 24 नवंबर को अयोध्या नहीं जा रहे हैं.गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे ने यह घोषणा की 

बता दें महाराष्ट्र (Maharashtra) सरकार के गठन को लेकर सभी की निगाहें सोनिया गांधी के साथ एनसीपी (NCP) प्रमुख शरद पवार (sharad pawar) की सोमवार को होने वाली मुलाकात पर टिकी हैं. माना जा रहा है कि इस मुलाकात के बाद महाराष्ट्र में बनने जा रही शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी सरकार को लेकर तस्वीर साफ हो जाएगी.

संसद में विपक्ष में बैठेगी शिवसेना
इस बीच एक प्रमुख राजनीतिक घटनाक्रम में शिवसेना संसद के दोनों सदनों में विपक्ष के साथ बैठेगी. सोमवार से संसद का सत्र शुरू हो रहा है. पार्टी के इस कदम से विपक्ष को शीतकालीन सत्र से पहले बढ़ावा मिलेगा. शिवसेना के लोकसभा में 18 और राज्यसभा में तीन सांसद हैं.

सूत्रों के मुताबिक, अब वह विपक्षी कतार में 198 नंबर की सीट पर बैठेंगे. शिवसेना के दो अन्य राज्यसभा सांसदों की कुर्सी भी संजय राउत के आसपास रहेगी. वहीं लोकसभा में शिवसेना के 18 सांसदों का सीटिंग अरेंजमेंट भी विपक्षी कतार में किया गया है. सूत्रों के मुताबिक उन्हें पांचवीं कतार में कुर्सी मिलेगी.