close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हनुमानगढ़ में अस्थाई पटाखा बाजार में नियमों का खुलेआम किया गया उल्लंघन, प्रशासन बेखबर

एक्सप्लोजिवएक्ट 2008 के मुताबिक अस्थाई पटाखा दुकानों में एक शेड से दूसरे शेड के बीच तीन मीटर की दूरी रखी जाएगी. वहीं किसी भी संरक्षित स्थल से 50 मीटर की दूरी रखी जाएगी.

हनुमानगढ़ में अस्थाई पटाखा बाजार में नियमों का खुलेआम किया गया उल्लंघन, प्रशासन बेखबर
फाइल फोटो

हनुमानगढ़: पीलीबंगा अस्थाई पटाखा बाजार में नियमों का खुलेआम किया गया उंल्लघन. बारूद के ढेर पर बैठा रहा पीलीबंगा शहर, खुले में कपड़े के टैंट लगाकर बेचे गये पटाखे. दुकानदारों के पास फायर सेफ्टी यंत्र भी नहीं थे. प्रशासन की नाक के नीचे एक्सप्लोजिव एक्ट 2008 की सरेआम जमकर उड़ाई गई धज्जियां. 

पीलीबंगा कस्बे के गांधी स्टेडियम में उपखंड कार्यालय पीलीबंगा द्वारा लगभग 88 अस्थाई पटाखा दुकाने लगाने के लाइसेंस जारी किए गए थे. जहां पर सभी पटाखा विक्रेताओं द्वारा खुले में कपड़े के टैंट लगाकर पुलिस और प्रशासनिक अमले को ठेंगा दिखाते हुए सरेआम एक्सप्लोजीव एक्ट 2008 और आयुध नियम और क़ानूनी कायदों कि जमकर धजियां उड़ाई गईं. ना ही उनके पास फायर सेफ्टी यन्त्र थे ना हीं दुकान. दुकान की दूरी तीन मीटर पर थी ना ही दुकानों को टिन शेड नहीं लगाया गया है. बिजली के उपकरण दीवारो मे फिक्स नहीं थे नियंत्रण के लिए मास्टर स्विच भी नहीं लगाया गया था 

एक्सप्लोजिवएक्ट 2008 के मुताबिक अस्थाई पटाखा दुकानों में एक शेड से दूसरे शेड के बीच तीन मीटर की दूरी रखी जाएगी. वहीं किसी भी संरक्षित स्थल से 50 मीटर की दूरी रखी जाएगी. शेड आमने-सामने नहीं खुलेंगे. इसमें तेल गैस से जलने वाले लैंप खुली लौ का प्रयोग वर्जित रहेगा. रोशनी के लिए उपयोग में लिए जाने वाले बिजली उपकरणों को दीवार में फिक्स करना होगा एवं नियंत्रण के लिए मास्टर स्विच रखना होगा. नियमों की पालना नहीं करने पर एसडीएम को नियमानुसार कार्रवाई का अधिकार है.