यूपी बोर्ड के छात्र अब 'ऑनलाइन' भर सकेंगे सक्रूटनी के फार्म, बोर्ड ने नियमों में किया बदलाव

पहले छात्रों को ये आवेदन ऑफलाइन करने पड़ते थे, जिसके लिए उन्हें बोर्ड और स्कूल के चक्कर काटने पड़ते थे. बोर्ड के इस बड़े बदलाव से छात्रों को काफी राहत मिलेगी. 

यूपी बोर्ड के छात्र अब 'ऑनलाइन' भर सकेंगे सक्रूटनी के फार्म, बोर्ड ने नियमों में किया बदलाव
प्रतीकात्मक तस्वीर

दिल्ली: अगर आप यूपी बोर्ड के छात्र हैं तो ये खबर आप के लिए महत्वपूर्ण है. बोर्ड ने सक्रूटनी के नियमों में कुछ बड़े बदलाव किए हैं जो आपके लिए जानना जरूरी है. अब छात्र सक्रूटनी फॉर्म के लिए आवेदन 'ऑनलाइन' कर सकेंगे.

बोर्ड ने छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए सक्रूटनी के नियमों में ये बदलाव किए है. पहले छात्रों को ये आवेदन ऑफलाइन करने पड़ते थे, जिसके लिए उन्हें बोर्ड और स्कूल के चक्कर काटने पड़ते थे. बोर्ड के इस बड़े बदलाव से छात्रों को काफी राहत मिलेगी. अब छात्र घर पर बैठे हुए ही सक्रूटनी के लिए आवेदन कर सकते है.

बोर्ड के नए नियम के अनुसार रिज़ल्ट घोषित होने के 25 दिनों के अंदर छात्र को स्क्रूटनी के लिए आवेदन करना होगा. बोर्ड ने कहा है कि स्क्रूटनी के लिए होने वाले आवेदनों को निस्तारित कर 15 जुलाई तक परिणाम भी घोषित कर दिए जाएंगे.

क्या है सक्रूटनी फॉर्म:-

स्क्रूटनी आवेदन में बोर्ड के द्वारा कापियों का दोबारा परिक्षण किया जाता है, जिसमे यदि किसी प्रकार की त्रुटि पायी जाती है, तो उसे सही किया जाता है और निर्धारित तिथि को स्क्रूटनी रिजल्ट बोर्ड की वेबसाइट पर घोषित कर दिया जाता है. परीक्षा परिणाम घोषित होने के कुछ दिन के बाद बोर्ड अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर स्क्रूटनी फॉर्म के लिए आवेदन की मांग करता है, यदि कोई छात्र अपने परीक्षा में मिले अंको से सहमत नहीं है या उसे लगता है कि उसके कुल अंकों के जोड़ में कुछ त्रुटी लगती है तो छात्र सक्रूटनी के लिए आवेदन कर सकते है.

लाइव टीवी देखें