close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जोधपुर में युवक की मौत के बाद हंगामा, परिजनों ने किया प्रदर्शन, शव उठाने से भी किया इंकार

जोधपुर में 18 वर्षीय युवक की मौत के बाद से ही क्षेत्र में तनाव का माहौल है. परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है, जबकि आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर विभिन्न समाज के लोगों ने प्रदर्शन किया.  

जोधपुर में युवक की मौत के बाद हंगामा, परिजनों ने किया प्रदर्शन, शव उठाने से भी किया इंकार

जोधपुर: जिले के शेरगढ़ थाना क्षेत्र के रावतसर गांव में 18 साल के युवक भंवराराम की संदिग्ध परिस्थिति में हुई मौत के मामले में विभिन्न समाज के लोगों ने प्रदर्शन किया. लोगों का आरोप है कि पुलिस ने जांच सही ढंग से आगे नहीं बढ़ाई है. लोगों का ये भी कहना है कि घटना स्थल से मोटर साईकिल पर शव लादकर लाया गया जिसे टांके में डाला गया है. 

टांके के आस-पास मोटर साइकिल के निशान भी मिटाए गए हैं और फसल भी काट कर सबूत मिटाने का प्रयास किया गया है. अखिल भारतीय पीपा क्षत्रिय टाइगर फोर्स सेवा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष गोविंदसिंह दहिया और श्री पीपा क्षत्रिय युवा परिषद राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष सुंदरलाल लाठी के अलावा अखिल भारतीय पीपा क्षत्रिय राष्ट्रीय महासभा के जिला देहात अध्यक्ष विशनाराम गोयल सहित पीपा क्षत्रिय समाज के तमाम लोगों ने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की है. साथ ही ये भी कहा कि जब तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता तब तक शव नहीं उठाया जाएगा.

आपको बता दें कि टांके में शव मिलने के मामले में मृतक के परिजनों ने हत्या का मामला दर्ज कराया था. शेरगढ़ अस्पताल की मॉर्चरी में शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमॉर्टम करवाया गया, लेकिन मृतक के पिता समेत तमाम लोगों का कहना है कि मृतक के मूंह से खून निकला हुआ था. शरीर पर चोटों के निशान भी हैं. उन्हें शक है कि युवक की हत्या के बाद उसका शव टांके में डाला गया है. इधर बालेसर सीओ भी शेरगढ़ पुलिस थाने में पहुंचे. उनका कहना है कि आरोपियों के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाली जा रही है. मोबाईल से लोकेशन ट्रेस कर आरोपियों को पकड़ने की हर कोशिश की जा रही है.