उत्तर प्रदेश में बारिश बनी जान की आफत, 600 से अधिक गांव बाढ़ से प्रभावित

उत्तर प्रदेश में भारी बारिश के चलते बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं. 16 जिलों के 600 से अधिक गांव प्रभावित हुए हैं.

उत्तर प्रदेश में बारिश बनी जान की आफत, 600 से अधिक गांव बाढ़ से प्रभावित
फाइल फोटो: ज़ी न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भारी बारिश के चलते बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं. 16 जिलों के 600 से अधिक गांव प्रभावित हुए हैं. सरकार हालात पर नजर रखे हुए हैं और अधिकारियों को हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है. 

प्रभावित जिलों अंबेडकरनगर, अयोध्या, आजमगढ़, बहराइच, बलिया, बाराबंकी, बस्ती, देवरिया, फर्रुखाबाद, गोंडा, गोरखपुर, लखीमपुर गिरि, कुशीनगर, मऊ, संत कबीर नगर और सीतापुर शामिल हैं. राहत आयुक्त संजय गोयल (Relief Commissioner Sanjay Goyal) ने बताया कि राज्य में बाढ़ की स्थिति में सुधार हो रहा है. 690 गांव जलप्रलय की चपेट में हैं जबकि  299 गांव पूरी तरह से बह गए हैं.

खतरे के निशान से ऊपर
संजय गोयल ने कहा कि लखीमपुर खीरी के पलिया में शारदा नदी, अयोध्या में सरयू नदी और बलिया में तुर्तीपार का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर चल रहा है. वहीं, मौसम विभाग का कहना है कि उत्तर प्रदेश के कई स्थानों पर भारी वर्षा रिकॉर्ड की गई है.

मुख्यमंत्री रख रहे नजर
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि नदियों के जलस्तर की निगरानी की रखी जाए और आसपास के गांवों में पानी भरने से पहले ही मुनादी कराकर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया जाए. गौरतलब है कि लगातार हुई बारिश कई इलाकों में राहत के बदले आफत बन गई है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.