राम मंदिर निर्माण को लेकर VHP नेता आलोक कुमार का बड़ा बयान, कही ये बात

वीएचपी के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने अयोध्या मामले में अन्य पक्षों को लेकर कहा कि रिव्यू पेटिशन दाखिल करना उनका अधिकार है.

राम मंदिर निर्माण को लेकर VHP नेता आलोक कुमार का बड़ा बयान, कही ये बात
आलोक कुमार ने सुप्रीम कोर्ट में मैराथन सुनवाई शुरू होने से पहले साफ कहा था कि अयोध्या में विवादित जमीन के मालिकाना हक का मुकदमा पहले ही बहुत ज्यादा लटक चुका है.

नई दिल्ली: विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने अयोध्या फैसले पर बड़ा बयान दिया है. आलोक कुमार ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर कहा कि कई जगहों पर वीएचपी द्वारा क्राउड फंडिंग करने की खबरें चल रही है. उन्होंने कहा कि इस विषय में वीएचपी का मत साफ है. वीएचपी मंदिर नहीं बना रही है और नाही फंड इकट्ठा करेगी. उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए हर एक पैसा भक्तों की ओर से आना चाहिए. आलोक कुमार ने कहा कि टैक्स के पैसों से मंदिर नहीं बनना चाहिए.

वहीं, वीएचपी के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने अयोध्या मामले में अन्य पक्षों को लेकर कहा कि रिव्यू पेटिशन दाखिल करना उनका अधिकार है. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट भी याचिका को सुनना चाहेगा तो उसे स्वीकार करेगा. वहीं, उन्होंने कहा कि रिव्यू पेटिशन के सफल होने का अब कोई चांस नहीं है. 

गौरतलब है कि विश्व हिंदू परिषद के वर्किंग प्रेसीडेंट आलोक कुमार ने सुप्रीम कोर्ट में मैराथन सुनवाई शुरू होने से पहले साफ कहा था कि अयोध्या में विवादित जमीन के मालिकाना हक का मुकदमा पहले ही बहुत ज्यादा लटक चुका है. अगर सुप्रीम कोर्ट इस फैसले की जल्द सुनवाई करने में कोताही बरतता है, तो मंदिर बनाने के लिए विहिप और ज्यादा इंतजार नहीं करेगी.