close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: गिर में 7 शावकों के साथ देखी गईं दो शेरनी

देश में गिर एकमात्र जगह है, जहां एशियाटिक लॉयन पाए जाते हैं. इन लॉयन की घटती आबादी सभी के लिए चिंता का सबब बनी हुई है. लेकिन पिछले कुछ सालों में गिर के जंगल में इन लॉयन की आबादी लगातार बढ़ रही है.

VIDEO: गिर में 7 शावकों के साथ देखी गईं दो शेरनी

अमरेली: गुजरात के गिर अभ्यारण्य के पास से एक बार फिर एक दिल को सुकून देना वाला वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में दो शेरनियां अपने 7 शावकों के साथ दिखाई दी हैं. देश में गिर एकमात्र जगह है, जहां एशियाटिक लॉयन पाए जाते हैं. इन लॉयन की घटती आबादी सभी के लिए चिंता का सबब बनी हुई है. लेकिन पिछले कुछ सालों में गिर के जंगल में इन लॉयन की आबादी लगातार बढ़ रही है.

अमरेली जिले के खांभा के नजदीक आदसंग डूंगर में दो शेरनी अपने 7 शावकों के साथ नजर आई. दो शेरनियों  में से एक के गले में रेडियो कॉलर ID लगा हुआ पट्टा नजर आया. गिर में रेवेन्यू और जंगल बॉर्डर पर रहने वाले 100 शेरो को जीपीएस कॉलर आईडी पहनाई गई है.

गिर के जंगल में एशियाई शेरों की संख्या लगातार बढ़ रही है. वन विभाग द्वारा हर पांच साल में शेरों की गणना की जाती है, पर बीच-बीच में इन पर नजर रखने के लिए गिनती करते रहते हैं. वन विभाग ने चैत्र माह की पूर्णिमा की रात में गिर में शेरों की गिनती की, जिसमें 600 से अधिक शेर पाए गए.  

600 शेर अधिक पाए गए
2015 में वन विभाग ने गिर के जंगल में शेरों की अधिकारिक गणना की थी तब रेवन्यू इलाके में 511 शेर थे. इस गणना के चार साल बाद गिर में एशियाई शेरों की संख्या लगातार बढ़ रही है. सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार 19 अप्रैल को वन विभाग की प्राथमिक गणना में 600 से अधिक शेर पाए गए हैं.

गिर के शेरों को दूसरे अभ्यारण्य में भेजने की मांग
गिर में बढ़ती शेरों की आबादी के चलते अब यहां से इन्हें दूसरे अभ्यारण्य में भेजने की मांग की जा रही है. मध्यप्रदेश के कूनो पालपुर में एशियाटिक लॉयन को भेजने की मांग लंबे समय से की जा रही है,लेकिन गुजरात सरकार इन शेर शेरनियों को वहां भेजने से लगातार इनकार करती रही है.