close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुजरात: घोड़ी पर बैठा दलित दूल्हा तो रोकी गई बारात, जिग्नेश ने साधा सरकार पर निशाना

गुजरात में पिछले कुछ समय से दलितों पर होने वाली अत्याचार की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं. रविवार को एक बार फिर गांधीनगर में ऐसी ही एक घटना हुई है.

गुजरात: घोड़ी पर बैठा दलित दूल्हा तो रोकी गई बारात, जिग्नेश ने साधा सरकार पर निशाना
गांधीनगर की माणसा तहसील के पारसा गांव में दलित युवक की बारात रोकी गई

गांधीनगर: गुजरात में पिछले कुछ समय से दलितों पर होने वाली अत्याचार की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं. रविवार को एक बार फिर गांधीनगर में ऐसी ही एक घटना हुई है. जानकारी के मुताबिक माणसा तहसील के पारसा गांव में दलित युवक की बारात को इसलिए रोका गया क्योंकि दूल्हा घोड़ी पर सवार था. इस मामले में पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ एट्रोसिटी, धमकी, मारपीट सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है.

पुलिस ने शांत कराया मामला
मिली जानकारी के अनुसार माणसा के पारसा गांव में एक दलित युवक की बारात निकली थी. तभी रास्ते में दूसरे समुदाय के लोग आ गए और बारात को रोक दिया और दूल्हे को घोड़ी से नीचे उतार दिया. जिसके बाद यह मामला और गर्मा गया. इस घटना को देखने के बाद आसपास के लोग इकट्ठा हो गए और पुलिस को जानकारी दी गई. तब मौके पर पहुंचकर पुलिस ने कार्यवाही करने की बात कही और मामले को शांत कराया.

जिग्नेश मेवाणी ने किया ट्वीट
इस घटना के बाद वडगांव के विधायक और दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधा. जिग्नेश ने अपने ट्वीट में लिखा, "कल डीजीपी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि दलित सुरक्षित है लेकिन आज खबर मिल रही है कि गांधीनगर जिले के मानसा तहसील के पारसा गांव में दलित समाज के दूल्हे को घोड़ी से उतार कर अपमानित किया गया है. पक्का ये सरकार का षड्यंत्र लग रहा है."