पश्चिम बंगाल: ट्रेन की टक्कर से घायल हुआ हाथी, ट्रेनों की आवाजाही हुई बाधित

नागराकोटा ब्लॉक के धरनीपुर चाय बागान के पास एक ट्रेन के धक्का लगने से एक हाथी बुरी तरह घायल हो गया . सिलीगुड़ी से धुबड़ी जाने वाली ट्रेन को भी काफी नुकसान पंहुचा है और ट्रेन का इंजन भी ख़राब हो गया है .  इस घटना के बाद डुआर्स जाने वाली ट्रेनों की आवाजाही ठप्प हो गई है .

पश्चिम बंगाल: ट्रेन की टक्कर से घायल हुआ हाथी, ट्रेनों की आवाजाही हुई बाधित

कोलकाता: नागराकोटा ब्लॉक के धरनीपुर चाय बागान के पास एक ट्रेन के धक्का लगने से एक हाथी बुरी तरह घायल हो गया . सिलीगुड़ी से धुबड़ी जाने वाली ट्रेन को भी काफी नुकसान पंहुचा है और ट्रेन का इंजन भी ख़राब हो गया है .  इस घटना के बाद डुआर्स जाने वाली ट्रेनों की आवाजाही ठप्प हो गई है .

रेलवे एवं स्थानीय सूत्रों के मुताबिक शुक्रवार सुबह करीब पौने आठ बजे ट्रेन नागरकोटा स्टेशन को पार कर बानरहाट की तरफ जा रही थी . थोड़ी ही दुरी पर ट्रेन तेज़ी से एक चाय बागान से गुजरी जहां पर वह हाथी घूम रहा था और संभवतः सुबह की किरण निकलते ही यह हाथी डायना के जंगलो की तरफ जा रहा होगा जब तेज़ गति से आ रही ट्रेन ने इसे धक्का मार दिया .

ट्रेन चालाक ने पूरी कोशिश की थी ट्रेन को रोकने की मगर रफ्तार तेज़ होने के कारण समय पर ट्रेन रुक नहीं सकी . हाथी के कमर और पीछे के पेअर पर काफी चोट पहुंची है और साथ साथ ट्रेन के इंजन को भी काफी नुकसान पंहुचा . अचानक हुए इस घटना से यात्रियों में आतंक पैदा हो गया और कुछ यात्रियों को हलकी-फुलकी चोटें भी आई हैं . खबर फैलते ही घटनास्थल पर वन विभाग और पुलिस कर्मी पहुंच गए.

वाइल्ड लाइफ वार्डन सीमा चौधरी ने बताया ' यह घटना रेलवे की लापरवाही के चलते हुई है, ट्रेन की स्पीड बहुत ज्यादा थी जिससे ट्रेन के सामने का हिस्सा भी क्षतिग्रस्त हो गया. हाथी का इलाज धरनीपुर इलाके में चल रहा है और उसके बाद डायना के जंगल में हाथी की चिकित्सा की जाएगी.