यात्रियों ने की 'भारत विरोधी' नारेबाजी, विरोध में जम्मू में छात्रों ने किया प्रदर्शन

यात्रियों ने प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान कथित रूप से नारेबाजी की.

यात्रियों ने की 'भारत विरोधी' नारेबाजी, विरोध में जम्मू में छात्रों ने किया प्रदर्शन
फाइल फोटो

जम्मू: कश्मीर जाने के दौरान रास्ते में फंसे यात्रियों के कथित रूप से ''आपत्तिजनक'' नारेबाजी की घटना के एक दिन बाद इसके विरोध में जम्मू में मंगलवार को सैकड़ों कॉलेज छात्रों ने कक्षा का बहिष्कार किया और शहर के कई इलाकों में प्रदर्शन किया. छात्रों ने आरोप लगाया कि यात्रियों ने कथित ''पाकिस्तान समर्थक'' और ''भारत विरोधी'' नारेबाजी की. उन्होंने इन यात्रियों पर देशद्रोह का मामला दर्ज किये जाने की मांग की. सोमवार को जम्मू के गांधी मेमोरियल साइंस कॉलेज के बाहर छात्रों के एक समूह और कुछ यात्रियों के बीच हाथापाई हो गयी, लेकिन समय रहते पुलिस ने मामले में बीच-बचाव कर स्थिति को नियंत्रण में किया.

यात्रियों ने प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान कथित रूप से नारेबाजी की. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रशासन संकट की घड़ी में उनकी मदद करने में नाकाम रहा. जम्मू में विभिन्न कॉलेजों के छात्रों ने कक्षा का बहिष्कार किया और कनाल रोड, ज्वेल चौक, तवी ब्रिज और बिक्रम चौक इलाकों में जमा हुए. उन्होंने सड़कों पर धरना-प्रदर्शन किया जिसके कारण यातायात बाधित हुआ. छात्रों ने तिरंगा थामे ''भारत माता की जय'' और ''वंदे मातरम'' के नारे लगाये. उन्होंने पाकिस्तान विरोधी नारेबाजी भी की.

छात्रों के एक नेता विजय चौधरी ने कहा कि यहां फंसे कश्मीर जाने वाले उन यात्रियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाना चाहिए जो ''भारत विरोधी'' और ''पाकिस्तान समर्थित'' नारेबाजी में संलिप्त थे. उन्हें गिरफ्तार कर लेना चाहिए. उन्होंने कहा कि जम्मू में इसकी इजाजत नहीं मिलेगी. प्रदर्शनकारियों ने बताया कि नारेबाजी करने वालों के खिलाफ जब तक कार्रवाई नहीं की जाती तब तक वे कक्षा का बहिष्कार करते रहेंगे.

भारी बर्फबारी और बारिश की वजह से भीषण भूस्खलन के चलते पिछले सात दिन से जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग के बंद है. इसके कारण कश्मीर जाने वाले सैकड़ों यात्री और छात्र जम्मू में फंसे हुए हैं. जम्मू पुलिस के वरिष्ठ अधीक्षक तेजिंदर सिंह ने कहा कि ‘‘राष्ट्र विरोधी’’ नारेबाजी में अगर कोई भी संलिप्त पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी.

(इनपुट भाषा से)