close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गवर्नर को तमिलनाडु के मुद्दे पर फैसला करना होगा, नहीं तो दर्ज हो सकता है मामला :सुब्रमण्यम स्वामी

तमिलनाडु के राज्यपाल सीएच विद्यासागर राव से मिलने के एक दिन बाद भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने आज कहा कि राज्यपाल को सरकार गठन के मुद्दे पर कल तक फैसला लेना होगा अन्यथा ‘खरीद फरोख्त को बढ़ावा देने के आरोप में अदालत में मामला दर्ज किया जा सकता है।’ 

गवर्नर को तमिलनाडु के मुद्दे पर फैसला करना होगा, नहीं तो दर्ज हो सकता है मामला :सुब्रमण्यम स्वामी
फाइल फोटो

चेन्नई: तमिलनाडु के राज्यपाल सीएच विद्यासागर राव से मिलने के एक दिन बाद भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने आज कहा कि राज्यपाल को सरकार गठन के मुद्दे पर कल तक फैसला लेना होगा अन्यथा ‘खरीद फरोख्त को बढ़ावा देने के आरोप में अदालत में मामला दर्ज किया जा सकता है।’

स्वामी ने ट्वीट किया, ‘तमिलनाडु के राज्यपाल को कल तक मुख्यमंत्री के मुद्दे पर निर्णय ले लेना चाहिए अन्यथा खरीद-फरोख्त को बढ़ावा देने के आरोप में संविधान के अनुच्छेद 32 के तहत रिट याचिका दाखिल की जा सकती है।’

सरकार गठन का मुद्दा सामने आने के बाद से स्वामी अन्नाद्रमुक महासचिव वी के शशिकला को मुख्यमंत्री के रूप में देखने के पक्षधर रहे हैं। उनका कहना है कि शशिकला के पास संख्याबल है।

हालांकि भाजपा की प्रदेश इकाई ने स्वामी के बयान से दूरी बनाते हुए कहा कि उन्होंने अलग रास्ता अपनाया है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष तमिलिसाई सुंदरराजन ने कहा, ‘मैं स्पष्ट करना चाहूंगा कि यह तमिलनाडु भाजपा का रास्ता नहीं है।’ उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘वह (स्वामी) राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य हैं और उनके विचार प्रदेश इकाई के नहीं हैं।’

केंद्रीय मंत्री और प्रदेश के वरिष्ठ भाजपा नेता पी राधाकृष्णन ने राज्यपाल का बचाव करते हुए कहा, ‘त्वरित फैसला लेने का मुद्दा पार्टी का नहीं है।’ उन्होंने कहा, ‘यह तमिलनाडु से जुड़ा मुद्दा है इसलिए जल्दबाजी की जरूरत नहीं है।’