Supreme Court: सुप्रीम कोर्ट में आज सिर्फ महिला जजों की एक बेंच, कोर्ट के इतिहास में तीसरी बार हुआ ऐसा
topStories1hindi1465855

Supreme Court: सुप्रीम कोर्ट में आज सिर्फ महिला जजों की एक बेंच, कोर्ट के इतिहास में तीसरी बार हुआ ऐसा

Supreme Court News: अभी सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्या 27 है. जबकि यहां कुल स्वीकृत पदों की संख्या 34 है. इन 27 जजों में से तीन जज, जस्टिस हिमा कोहली, जस्टिस बी वी नागरत्ना और जस्टिस बेला त्रिवेदी बतौर महिला जज शामिल हैं. 

Supreme Court: सुप्रीम कोर्ट में आज सिर्फ महिला जजों की एक बेंच, कोर्ट के इतिहास में तीसरी बार हुआ ऐसा

Supreme Court gets all woman judge bench: सुप्रीम कोर्ट में आज का दिन इस लिहाज से अहम है कि कोर्ट नम्बर 11 मे सिर्फ महिला जजों वाली बेंच बैठ रही है. इस बेंच में शामिल जज हैं जस्टिस हिमा कोहली (Justice Hima Kohli) और जस्टिस बेला त्रिवेदी (Justice Bela M Trivedi). दोनों महिला जजों की बेंच के सामने 10 ट्रांसफर याचिका, 10 ज़मानत याचिका, 9 सिविल और 3 क्रिमिनल केस सुनवाई के लिए लगे हैं.

SC के इतिहास में ऐसा तीसरी बार
आजाद भारत 72 साल के सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में ऐसा सिर्फ तीसरी बार हुआ है, जब बेंच के सभी सदस्य महिला जज ही है. सबसे पहले ऐसा साल 2013 में हुआ जब जस्टिस ज्ञान सुधा  मिश्रा और जस्टिस रंजना प्रकाश देसाई की बेंच बैठी. उस दिन बेंच के दूसरे साथी जज के उपलब्ध न रहने के चलते बेंच में सिर्फ महिला जज ही मौजूद थीं. साल 2018 में दूसरी बार ऐसा तब हुआ जब जस्टिस आर भानुमति और जस्टिस इंदिरा बनर्जी की बेंच बैठी थी. वहीं आज तीसरी बार जस्टिस हिमा कोहली और जस्टिस बेला त्रिवेदी की बेंच बैठी है.

अभी SC को मिले 11 महिला जज
वैसे अपने आप में ये भी गौर करने वाली बात है कि सुप्रीम कोर्ट के संवैधानिक इतिहास में अब तक सिर्फ 11 महिला जज रही हैं. जस्टिस फातिमा बीबी 1989 में सुप्रीम कोर्ट के जज बनने वाली पहली महिला जज थीं. जस्टिस फातिमा के बाद जस्टिस सुजाता मनोहर, जस्टिस रूमा पाल, जस्टिस ज्ञान सुधा मिश्रा, जस्टिस रंजना प्रकाश देसाई, जस्टिस आर भानुमति, जस्टिस इंदु मल्होत्रा, जस्टिस इंदिरा बनर्जी, जस्टिस हिमा कोहली, जस्टिस बी वी नागरत्ना और जस्टिस बेला त्रिवेदी सुप्रीम कोर्ट में महिला जज बनीं. 

इन सबके बीच अगस्त 2021 से सितंबर 2022 के बीच सुप्रीम कोर्ट का वक़्त इस लिहाज से भी ऐतिहासिक रहा कि इस दरमियान कोर्ट में एक साथ चार महिला जज जस्टिस इंदिरा बनर्जी, जस्टिस हिमा कोहली, जस्टिस बी वी नागरत्ना और जस्टिस बेला त्रिवेदी रहीं.

जस्टिस नागरत्ना होंगी पहली महिला CJI

अभी सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्या 27 है, जबकि यहां कुल स्वीकृत पदों की संख्या 34 है. इन 27 जजों में से तीन जज, जस्टिस हिमा कोहली, जस्टिस बी वी नागरत्ना और जस्टिस बेला त्रिवेदी महिला जज शामिल हैं. वरिष्ठता के क्रम के मुताबिक जस्टिस बी वी नागरत्ना आगे चलकर चीफ जस्टिस भी बन सकती हैं. वो देश की पहली महिला चीफ जस्टिस होंगी. हालांकि उनका कार्यकाल 24 सितंबर 2027 से 29 अक्टूबर 2027 तक महज 36 दिनों का होगा.

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Trending news