ZOOM ऐप बैन की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने की सुनवाई, केंद्र से मांगा जवाब

 वीडियो कॉलिंग ऐप Zoom पर प्रतिबंध की मांग करने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की.

ZOOM ऐप बैन की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने की सुनवाई, केंद्र से मांगा जवाब
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: वीडियो कॉलिंग ऐप Zoom पर प्रतिबंध की मांग करने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. याचिका में लोगों का डेटा लीक होने और साइबर अपराध में इस्तेमाल होने का खतरा बताया गया है. याचिका में मांग की गई है कि इस ऐप के इस्तेमाल पर रोक लगाई जाए.

याचिकाकर्ता दिल्ली के रहने वाले हर्ष चुघ हैं, जो कि पेशे से प्राइवेट ट्यूटर हैं. याचिकाकर्ता हर्ष का कहना है कि जूम ऐप से लोगों का डाटा लीक होने के साथ ही साइबर अपराध में इस्तेमाल होने की आशंका है, इसलिए सरकार को जांच करानी चाहिए.

ये भी पढ़ें: 83 दिनों बाद दौरे पर निकले प्रधानमंत्री मोदी, खुद किया Lockdown का पूरा पालन

आपको बता दें कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश में लॉकडाउन घोषित है. लोगों को घरों में रहने के लिए कहा गया है. इस दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप Zoom का इस्तेमाल तेजी से बढ़ा है. कोरोना लॉकडाउन के कारण ज्यादा लोग ऑनलाइन क्लासेज या मीटिंग के लिए जूम ऐप का इस्तेमाल करते हैं. जूम कंपनी के सीईओ एरिक युआन ने हाल ही में एक बयान में कहा था कि हाल के दिनों में हमारे कारोबार में सबसे ज्यादा बढ़ोत्तरी देखने को मिली है. खास बात यह है कि जूम ऐप में एक बार में करीब 100 लोग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जुड़ सकते हैं.