तमिलनाडु: पुलिस उत्पीड़न से पिता-पुत्र की मौत के मामले ने पकड़ा तूल, अब CBI करेगी जांच

तमिलनाडु की सरकार ने तूतीकोरिन जिले में पिता-पुत्र की मौत के मामले की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने का निर्णय किया है.

तमिलनाडु: पुलिस उत्पीड़न से पिता-पुत्र की मौत के मामले ने पकड़ा तूल, अब CBI करेगी जांच

सलेम/तूतीकोरिन: तमिलनाडु की सरकार ने तूतीकोरिन जिले में पिता-पुत्र की मौत के मामले की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने का निर्णय किया है. दोनों की मौत कथित तौर पर पुलिस उत्पीड़न के कारण हुई थी.

यह बात रविवार को मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने कही.

तूतीकोरिन पुलिस ने कहा कि सथानकुलम पुलिस थाना जहां कथित तौर पर दोनों की बुरी तरह पिटाई की गई थी वहां के इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया गया है और उसकी जगह नया अधिकारी आ चुका है.

सोशल मीडिया पर नाराजगी
लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन कर मोबाइल की दुकान खोलने के आरोप में पुलिस ने तमिलनाडु के तूतिकोरिन जिले के सातनकुलम से जयराज और फेनिक्स को गिरफ्तार किया था.

ये भी पढ़ें- राहत की खबर: दिल्ली में एक दिन में ठीक हुए कोरोना के 3,306 मरीज

दोनों की कोविलपट्टी के अस्पताल में 23 जून को मौत हो गई थी. परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिसकर्मियों ने सातनकुलम थाने में पिता-पुत्र की बर्बर तरीके से पिटाई की थी जिसकी वजह से उनकी मौत हुई.

उल्लेखनीय है कि पिता-पुत्र की मौत की घटना सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर नाराजगी देखी जा रही है और हैशटैग जस्टिस फॉर जयराज एंड फेनिक्स ट्रेंड कर रहा है.

ये भी पढ़ें- पुलिस ​उत्पीड़न के विरोध में उतरे बॉलीवुड सितारे, जयराज-फेनिक्स को न्याय दिलाने की मांग की

इस घटना से पूरे देश में गुस्से का माहौल पैदा हो गया है जिसके बाद दो उपनिरीक्षकों सहित चार पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया

इनपुट: भाषा

ये भी देखें-