हैदराबाद एनकाउंटर की CM जगन रेड्डी ने तारीफ की, बोले- 'मेरी भी 2 बेटियां हैं'

विधानसभा में चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री जगन रेड्डी ने कहा कि मैं भी दो बेटियों का पिता हूं. मैं एक बहन का भाई भी हूं और मेरी पत्नी भी है. अगर मेरी बेटी, बहन या पत्नी के साथ कुछ भी होता है तो एक पिता, भाई या पति के रूप में मेरी क्या प्रतिक्रिया होगी. हालांकि जगन ने ये भी कहा कि रेप और गैंगरेप जैसी वारदातों को रोकने के लिए कानून को और सख्त करने की जरूरत है.

हैदराबाद एनकाउंटर की CM जगन रेड्डी ने तारीफ की, बोले- 'मेरी भी 2 बेटियां हैं'
तेलंगाना के सीएम जगन रेड्डी ने हैदराबाद एनकाउंट की तारीफ की.

हैदराबाद: वेटनरी डॉक्टर के साथ गैंगरेप और हत्या मामले के आरोपियों की पुलिए एनकाउंटर में मौत मामले की आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी (Y S Jagan Mohan Reddy) ने तारीफ की है. सीएम जगन रेड्डी ने इस कार्रवाई के लिए तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और तेलंगाना पुलिस की तारीफ की है. आंध्र प्रदेश विधानसभा में चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री जगन रेड्डी ने कहा कि मैं भी दो बेटियों का पिता हूं. मैं एक बहन का भाई भी हूं और मेरी पत्नी भी है. अगर मेरी बेटी, बहन या पत्नी के साथ कुछ भी होता है तो एक पिता, भाई या पति के रूप में मेरी क्या प्रतिक्रिया होगी. हालांकि जगन ने ये भी कहा कि रेप और गैंगरेप जैसी वारदातों को रोकने के लिए कानून को और सख्त करने की जरूरत है.

यहां आपको बता दें कि हैदराबाद एनकाउंटर का कुछ लोग विरोध कर रहे हैं तो कई लोग तारीफ भी कर रहे हैं. कानून व्यवस्था से जुड़े ज्यादातर लोग इस घटना की निंदा कर रहे हैं. जया बच्चन जैसी महिला सांसद इसे अच्छा फैसला बता रही हैं. हालांकि तेलंगाना हाईकोर्ट ने इस एनकाउंटर पर संज्ञान ले लिया है. हाईकोर्ट ने पुलिस से पूरी कार्रवाई की रिपोर्ट मांगा है. हैदराबाद मुठभेड़ मामले में दायर जनहित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगी.

गोवा के मंत्री की डिमांड- 'रेपिस्टों को सार्वजनिक फांसी दें'
इससे पहले गोवा के बंदरगाह मंत्री माइकल लोबो ने शनिवार को मांग की कि दुष्कर्म और हत्या के दोषियों को किसी सार्वजनिक स्टेडियम में फांसी दी जानी चाहिए, ताकि इस तरह के जघन्य अपराध करने वालों को एक मजबूत संदेश मिल सके. लोबो ने यहां पत्रकारों से बातचीत में तेलंगाना में दुष्कर्म व हत्या के चार अभियुक्तों के विवादास्पद एनकाउंटर पर टिप्पणी की. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से कानून में आवश्यक संशोधन लाने का आग्रह किया, ताकि इस तरह के अपराध करने वालों को सार्वजनिक तौर पर फांसी दी जा सके.

ये भी देखें-:

RJD ने उठाए सवाल
पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू प्रसाद की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने हैदराबाद में वेटेनरी डॉक्टर के सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में गिरफ्तार चारों आरोपियों के पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने पर सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि ऐसे लोगों को कानून के अनुसार न्यायालय से सजा मिलनी चाहिए. राजद ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के 20 से अधिक बड़े नेताओं के खिलाफ दुष्कर्म के मामले दर्ज हैं, क्या कोई पुलिस उनका 'एनकाउंटर' करेगी? राजद के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया, 'हर दुष्कर्मी को सजा मिले. शर्तिया सजा मिले. परंतु यह सजा देश के कानून के अनुसार न्यायालय से मिले. किसी उग्र भीड़, किसी स्वयंभू संगठन की 'सक्रियतावाद', स्वघोषित 'संस्कृतिरक्षकों' के कंगारू कोर्ट या पुलिस के फर्जी एनकाउंटर से नहीं.'

मुठभेड़ स्थल पर लोगों ने पुलिस पर बरसाए फूल
हैदराबाद एनकाउंटर के बाद शादनगर कस्बा स्थित यहां मुठभेड़ स्थल पर पुलिसकर्मियों पर फूल बरसाए. 28 नवंबर को जिस पुल के नीचे पीड़िता का जला शव मिला था, उसके ऊपर खड़े होकर लोगों ने 'पुलिस जिंदाबाद' के नारे लगाकर उन पर फूल बरसाए.

हैदराबाद से करीब 50 किलोमीटर दूर शादनगर के पास चटनपल्ली में पुलिस से कथित तौर पर हथियार छीनने की कोशिश के बाद भाग रहे आरोपियों को शुक्रवार सुबह पुलिस ने मार गिराया. पुलिस वहां दुष्कर्म की रात मौका-ए-वारदात का क्राइम सीन समझने के लिए आरोपियों को लेकर गई थी. चटनपल्ली में इकट्ठा हुए सैकड़ों लोगों ने जघन्य अपराध के अपराधियों को मारने के लिए साइबराबाद पुलिस, विशेषकर आयुक्त वी.सी. सज्जनार का आभार व्यक्त किया.

30 नवंबर को शादनगर थाने के बाहर किए गए विरोध प्रदर्शन का जिक्र करते हुए एक नागरिक ने कहा, 'प्रदर्शन के दौरान हमने पुलिस से कहा था कि वह या तो आरोपियों को हमारे हवाले कर दें या फिर उन्हें मुठभेड़ में मार गिराए. उन्होंने उनका एनकाउंटर कर दिया.'

जैसे ही मुठभेड़ की खबर फैली, हैदराबाद के विभिन्न स्थानों और तेलंगाना के अन्य स्थानों से लोग मुठभेड़ स्थल के पास पुलिस का शुक्रिया अदा करने के लिए पहुंचे. कुछ ने इस दौरान पटाखे फोड़े और मिठाइयां बांटी. पुलिस को इस मुठभेड़ के लिए बधाई संदेश देने के लिए कई लोगों ने 100 नंबर डायल किया.