तेलंगाना गैंगरेप केस: हाई कोर्ट में अब गुरुवाई को होगी सुनवाई

इसके साथ ही कोर्ट ने ये भी निर्देश दिया कि आरोपियों की बॉडी को गांधी सरकारी अस्‍पताल में शुक्रवार तक सुरक्षित रखा जाए.

तेलंगाना गैंगरेप केस: हाई कोर्ट में अब गुरुवाई को होगी सुनवाई

हैदराबाद: दिशा गैंगरेप-मर्डर केस में तेलंगाना हाई कोर्ट ने सुनवाई गुरुवार तक के लिए टाल दी. इसके साथ ही कोर्ट ने ये भी निर्देश दिया कि आरोपियों की बॉडी को गांधी सरकारी अस्‍पताल में शुक्रवार तक सुरक्षित रखा जाए. इससे पहले छह दिसंबर को तेलंगाना हाई कोर्ट ने मामले का संज्ञान लेते हुए राज्‍य सरकार को निर्देश दिया था कि मुठभेड़ में मारे गए चार आरोपियों के शव को 9 दिसंबर को शाम 08:00 बजे तक सुरक्षित रखा जाए. साथ ही हाई कोर्ट ने चारों शवों के पोस्टमार्टम की पूरी वीडियोग्राफी कराने को कहा था. साथ ही पूरे एनकाउंटर की रिपोर्ट भी मांगी है. गौरतलब है कि तेलंगाना की राजधानी में वैटनरी डॉक्टर के साथ गैंगरेप और निर्मम हत्या की वारदात के 10 दिन बाद पुलिस ने छह दिसंबर को रंगारेड्डी जिले में शादनगर के पास मुठभेड़ में चारों आरोपियों को मार गिराया.

इस बीच हैदराबाद में रेप और मर्डर के आरोपियों के एनकाउंटर (Encounter) के मामले में दाखिल जनहित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को सुनवाई होगी. बता दें कि हैदराबाद मुठभेड़ मामले में पुलिसकर्मियों के खिलाफ वकील द्वारा  याचिका दायर की गई है. अभी याचिका सुनवाई के लिए कोर्ट की लिस्ट में नहीं लगी है,  लेकिन वकील ने याचिका पर जल्द सुनवाई करने के लिए चीफ़ जस्टिस की कोर्ट में मेंशन किया.

LIVE TV

हैदराबाद एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को होगी सुनवाई, पुलिस पर FIR दर्ज करने की है मांग

यह याचिका सुप्रीम कोर्ट के वकील जी एस मणि ने खुद दाखिल की है. याचिका में एनकाउंटर की निष्पक्ष जांच एजेंसी से जांच कराने की मांग की गई है. साथ ही सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन के तहत साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार और एनकाउंटर में शामिल पुलिसकर्मियों पर एफआईआर दर्ज कराने की मांग की गई है. याचिका में आरोप लगाया गया है कि एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों का पालन नहीं किया गया.