Breaking News
  • कोलकाता से आज से घरेलू उड़ानें शुरू, एयरपोर्ट पर 10 उड़ानें आएंगी और इतनी ही जाएंगी

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बल कर रहे'आतंकी वायरस' का खात्मा, 2020 में मारे इतने आतंकी

आतंकी संगठनों की कमर तोड़ने के लिए पहले उनके समर्थकों को धरा गया.

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बल कर रहे'आतंकी वायरस' का खात्मा, 2020 में मारे इतने आतंकी
(प्रतीकात्मक तस्वीर )

श्रीनगरः जम्मू कश्मीर  (Jammu Kashmir) में सुरक्षा बल (Security forces) आतंकवाद के वायरस के सफाया में इस साल के शरुआत से ही लगे हैं और कई ऑपेरशन कर आतंकियों के कमांडर सहित 28 आतंकवादियों (Terrorist) को ढेर कर दिया गया हैं. कई आतंकियों को ज़िंदा भी पकड़ा गया जिन के पास से कई अहम सुराग भी हासिल हुए हैं.

दरसल आतंकी संगठनों की कमर तोड़ने के लिए पहले उनके समर्थकों को धरा गया. सुरक्षा बलों ने 65 आतंकियों समर्थकों (ओवरग्राउंड वर्कर) को भी हिरासत में लिया जिनके पास से जानकारी हासिल कर आतंकियों तक पहुंचा गया. 

आईजीपी कश्मीर, विजय कुमार का कहना हैं "2020 में काफी सफल ऑपेरशन हुए हैं जिसमें 28 आतंकी मारे गए हैं और 11 आतंकियों को पकड़ा गया हैं जिनमें 8 आतंकियों ने हाल ही में ज्वाइन किया था, उन्हें उनके परिवार को सौंप दिया हैं.  उन्होने और कहा "सब से बड़ी बात हैं जैश, एचएम और लश्कर के टॉप कमांडर मारे गए हैं। 

पुलिस का कहना है कि ऑपरेशन जारी है, अभी भी पुलिस के मुताबिक 225 आतंकी कश्मीर में हैं जिनके खिलाफ करवाई जारी हैं। पुलिस मानती हैं कि ओजीडब्ल्यू (ओवरग्राउंड वर्कर) की गिरफ्तारी से बहुत फायदा मिला है. 

आईजीपी कश्मीर विजय कुमार कहते हैं " आतंकी को रिसीव करने में, उनको गाइड करने में उनका सामान लाने-ले जाने में OWG  बड़ा रोल रहता है. इनको पकड़ने बहुत फर्क पड़ता है क्योंकि एक तो यह आतंकियों की मदद करते हैं और दूसरा - कानून विवस्था बिगड़ाने में भी इनका हाथ रहता हैं। "

कश्मीर में कोरोना वायरस से निपटने के साथ साथ आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन जारी रखे गए हैं ताकि यह लोग इस समय में अपनी जड़ें फिर मज़बूत ना करें। 

क्योंकि दूसरी तरप पाकिस्तान भी इस समय जब दुनिया कोरोना से लड़ रही हैं युद्ध विराम का उल्लंघन जारी रखे हुए है ताकि आतंकियों की संख्या को जम्मू कश्मीर में बढ़ाई जा सके.