close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आतंकियों के घुसपैठ की नई तरकीब को नाकाम करेगी नौसेना, दूरबीन में दिखते ही चलेगी गोली

सूत्रों की मानें तो भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसियों को मिले ताज़ा इनपुट के मुताबिक पाकिस्तान (Pakistan) आतंकी भारत में घुसपैठ करने के लिए भारतीय मछुआरों की बोट का इस्तेमाल कर सकते हैं.

आतंकियों के घुसपैठ की नई तरकीब को नाकाम करेगी नौसेना, दूरबीन में दिखते ही चलेगी गोली
आतंकियों की हरकत पर नजर रखे हुए है इंडियन नेवी. तस्वीर साभार- indiannavy.gov.in

नई दिल्ली: मोदी सरकार (Modi government) की ओर से किए गए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम के चलते भारत में अशांति फैलाने में नाकाम पाकिस्तान (Pakistan) आतंकियों (Terrorists) की घुसपैठ कराने के तरह-तरह तरीके ढूंढता रहता है. सूत्रों की मानें तो भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसियों को मिले ताज़ा इनपुट के मुताबिक पाकिस्तान (Pakistan) आतंकी भारत में घुसपैठ करने के लिए भारतीय मछुआरों की बोट का इस्तेमाल कर सकते हैं. दरअसल, गुजरात के कुछ तटीय इलाकों के मछुआरे मछली पकड़ने के लिए जाने-अनजाने में भारतीय समुद्री सीमा पार कर जाते हैं, जिसके बाद पाकिस्तान (Pakistan) नेवी इन मछुआरों को बंधक बना लेती है और इनके फिशिंग ट्रॉलर जब्त कर लिए जाते हैं. 

एजेंसियों को मिली ख़ुफ़िया जानकारी के मुताबिक इन्ही जब्त की गयी भारतीय फिशिंग ट्रॉलर से पाकिस्तान (Pakistan) अपने आतंकियों (Terrorists) को भारत की सीमा में घुसपैठ करवा सकता है. गौरतलब है कि इन फिशिंग ट्रॉलर पर लगे भारतीय झंडे और यूनिक आइडेंटिटी नंबर के चलते इंडियन नेवी को इन पर शक न हो इसलिए ये साजिश रची जा रही है. 

सूत्रों का दावा है कि ख़ुफ़िया एजेंसियों को इस बात की भी जानकारी मिली है कि पाकिस्तान (Pakistan) नेवी के स्पेशल सर्विस ग्रुप का एक पूर्व कमांडर कराची बंदरगाह के पास एक अज्ञात ठिकाने पर इन आतंकियों (Terrorists) को ट्रेनिंग मुहैया करवा रहा है. इस ट्रेनिंग में शूटिंग के अलावा लॉन्ग डिस्टेंस स्विमिंग, अंडर-वॉटर सबोटाज, नेविगेशन और सेटेलाइट इक्विपमेंट्स से जुडी ट्रेनिंग दी जा रही है. हिंदुओं की तरह वेशभूषा और बोलचाल भी इस ट्रेनिंग मॉड्यूल का हिस्सा है. 

लाइव टीवी देखें-:

एजेंसियों ने जुटाए इनपुट के मुताबिक पाकिस्तान (Pakistan) नेवी भारतीय फिशिंग ट्रॉलर से इन ट्रेंड आतंकियों (Terrorists) को लांच करने की फिराक में है, इसके लिए उन्होंने गुजरात और महाराष्ट्र के तटीय इलाकों के पास कुछ लेंडिंग पॉइंट्स भी तय कर लिए हैं, लेकिन ख़ुफ़िया एजेंसियों से मिले इस इनपुट के बाद भारतीय एजेंसियां सचेत हो चुकीं है. 

सूत्रों की अगर मानें तो भारतीय नौसेना ने समुद्री सीमा से सटे इलाकों में अपनी मौजूदगी और गश्त बढ़ा दी है. इलाके में दिखाई देने वाली मछुआरों की सभी बोट ना सिर्फ नेवी की निगरानी में हैं, बल्कि ट्रॉलर पर मौजूद मछुआरों के दस्तावेज़ों की भी जांच करने की कवायद शुरू कर दी गई है.

भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने कहा, 'हमें इस तरह के अलर्ट मिले हैं, लेकिन भारतीय नौसेना पूरी तरह से तैयार है.'

गौरतलब है कि कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान (Pakistan) बौखलाया हुआ है और भारत में आतंक फ़ैलाने के लिए आमादा है. भारत में घुसपैठ करवाने के लिए भारत-पाकिस्तान (Pakistan) की अलग-अलग सीमाओं के पास पाकिस्तान (Pakistan) ने आतंकियों (Terrorists) के लिए कई लॉन्चपैड तैयार किये जाने की जानकारी भी भारतीय एजेंसियों के पास पहले से ही मौजूद है. भारतीय सेना के मुताबिक इंडियन सिक्योरिटी फोर्सेस को निशाना बनाने के लिए 80 से ज्यादा कमांडो को मुज़फ़्फ़राबाद में भी ट्रेनिंग दी जा रही है.

भारतीय सेना के चिनार कॉर्प्स कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल के.जे.एस. ढिल्लों ने कहा, 'पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से घुसपैठ की कार्रवाई की जा रही है, आतंकियों (Terrorists) के लिए कई लॉन्चपैड तैयार किये गए हैं.'

ख़ुफ़िया एजेंसियों से मिले इस इनपुट के बाद महाराष्ट्र, गोवा और गुजरात में हाई अलर्ट घोषित किया गया है. गुजरात के मछुआरों को इस बात को लेकर ख़ास निर्देश जारी किये गए हैं कि वे समुद्री सीमा को लेकर सजग रहें. 

गौरतलब है कि मुंबई समेत महाराष्ट्र में गणेशोत्सव मनाया जा रहा है. गणेशोत्सव के 11वें दिन लाखों की तादात में गणेश भक्त अपने आराध्य देव का विसर्जन करने समुद्री किनारे पर पहुंचते हैं, ऐसे में ख़ुफ़िया एजेंसियों की तरफ से कोस्टगार्ड, मरीन पुलिस और मुंबई पुलिस को भी सचेत कर दिया गया है.