close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

US: टेक्‍सास के पहले पगड़ीधारी सिख पुलिस अधिकारी की हत्‍या, भारत ने जताया गहरा शोक

भारतीय-अमेरिकी संदीप धालीवाल (Sandeep Dhaliwal) को उस वक्‍त कई गोलियां गोली मारी गईं जब उन्‍होंने एक गाड़ी को चेकिंग के लिए रोका.

US: टेक्‍सास के पहले पगड़ीधारी सिख पुलिस अधिकारी की हत्‍या, भारत ने जताया गहरा शोक

नई दिल्‍ली: अमेरिकी प्रांत टेक्‍सास (Texas) के पहले पगड़ीधारी सिख पुलिस अधिकारी संदीप धालीवाल (42) की गोली मारकर हत्‍या कर दी. भारतीय-अमेरिकी संदीप धालीवाल (Sandeep Dhaliwal) को उस वक्‍त कई गोलियां गोली मारी गईं जब उन्‍होंने एक गाड़ी को चेकिंग के लिए रोका. पुलिस के मुताबिक उस गाड़ी में एक महिला और पुरुष थे. जब संदीप धालीवाल ने उनकी गाड़ी को रोका तो उनमें से एक ने निकलकर संदीप को दो गोलियां मारीं. संदीप धालीवाल हैरिस काउंटी में डिप्‍टी शैरिफ थे. वह पिछले 10 सालों से टेक्‍सास पुलिस विभाग में थे.

शैरिफ एड गोंजालेज ने घटना की जानकारी देते हुए कहा कि उसके बाद हमने तत्‍काल उनके डैशकैम से संदिग्‍ध की फोटो ली और मुखबिरों एवं खुफिया विभाग के माध्‍यम से खोजबीन की. पुलिस के मुताबिक इस आधार पर 47 साल के संदिग्‍ध रॉबर्ट सोलिस को पकड़ा गया है. उससे मर्डर चार्ज में पूछताछ की जा रही है. अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं हो सका है कि क्‍या यह घृणा अपराध ( Hate Crime) था. शैरिफ एड ने कहा, ''एक हीरो को खोकर हमारा दिल टूट गया. हिंसक तरीके से एक लीडर की हत्‍या की गई. हमारे पास अपने दुख को व्‍यक्‍त करने के लिए शब्‍द नहीं हैं...हमारे अंदर आक्रोश है...हम इंसान हैं...''

LIVE TV

टेक्‍सास के सीनेटर जॉन कॉर्निन ने पुलिस विभाग की पोस्‍ट को शेयर करते हुए याद किया कि 2015 में किस तरह संदीप धालीवाल ने यह सम्‍मान हासिल किया था कि वह ड्यूटी के दौरान सिख पगड़ी पहन सकते हैं और दाढ़ी रख सकते हैं. उन्‍होंने कहा, ''ऑफिसर धालीवाल टेक्‍सास के पहले सिख थे जो ड्यूटी पर पगड़ी पहनते थे. आज ड्यूटी के दौरान उनको गोली मार दी गई. मेरी संवेदनाएं परिवार, मित्रों और साथी अधिकारियों के प्रति हैं.''

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने संदीप धालीवाल की मौत पर गहरा शोक व्‍यक्‍त किया है. एस जयशंकर ने ट्वीट कर कहा, ''ह्यूस्‍टन के भारतीय-अमेरिकी अधिकारी संदीप सिंह धालीवाल की हत्‍या की खबर सुनकर गहरा दुख पहुंचा. हाल ही में हम उस शहर गए थे. मैं उनके परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं.''