चीन और पाकिस्तान की गतिविधियों पर अब मोदी सरकार ऐसे रखेगी नजर

इस सिस्टम के आने के बाद पाकिस्तान की ओर से हो रही आतंकी घुसपैठ और बांग्लादेश, नेपाल बॉर्डर से होने वाली तस्करी पर पहले से ज्यादा कड़ी नजर रखने में मदद मिलेगी. इसके साथ ही डोकलाम विवाद जैसी घटनाओं को भी रोका जा सकेगा.

चीन और पाकिस्तान की गतिविधियों पर अब मोदी सरकार ऐसे रखेगी नजर
दिल्ली में बनने वाला मुख्यालय सीमाओं पर तैनात जवानों के लिए कंट्रोल रुम की तरह काम करेगा. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: अब भारत के खिलाफ हो रही गतिविधियों पर ITBP, BSF को रियल टाइम एरियल जानकारी मिलेगी. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक चीनी-पाकिस्तानी सीमाओं पर हो रही गतिविधियों पर नजर रखने के लिए दिल्ली-एनसीआर में कंट्रोल रूम की तरह काम करने वाला एक मुख्यालय भी बनाया जा सकता है. चीन और पाकिस्तान की सीमा पर सैटेलाइट से नजर रखी जाएगी. भारत सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए यह फैसला लिया है. सीमाओं पर सैटेलाइट के जरिए नजर रखी जाएगी. 

घुसपैठ रोकने में मदद
सूत्रों की मानें तो इस सैटेलाइट सिस्टम को लेकर गृहमंत्रालय के साथ BSF, SSB, ITBP, और ISRO के अधिकारियों के बीच बैठक हो चुकी है. अगर ये सिस्टम काम में आता है तो भारत-पाकिस्तान, भारत-बांग्लादेश, भारत-चीन, भारत-नेपाल बॉर्डर पर होने वाली घुसपैठ को रोकने में बड़ी कामयाबी मिलेगी.

दिल्ली में कंट्रोल रुम
इस सिस्टम के आने के बाद पाकिस्तान की ओर से हो रही आतंकी घुसपैठ और बांग्लादेश, नेपाल बॉर्डर से होने वाली तस्करी पर पहले से ज्यादा कड़ी नजर रखने में मदद मिलेगी. इसके साथ ही डोकलाम विवाद जैसी घटनाओं को भी रोका जा सकेगा. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दिल्ली में बनने वाला मुख्यालय सीमाओं पर तैनात जवानों के लिए कंट्रोल रुम की तरह काम करेगा.