देश की सबसे भ्रष्ट कर्नाटक सरकार भ्रष्टाचार में तोड़े सारे रिकॉर्ड: अमित शाह

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कर्नाटक में सिद्धरमैया नीत कांग्रेस सरकार पर एक जोरदार हमला करते हुए उस पर भ्रष्टाचार के सारे रिकॉर्ड तोड़ने का आज आरोप लगाया.

देश की सबसे भ्रष्ट कर्नाटक सरकार भ्रष्टाचार में तोड़े सारे रिकॉर्ड: अमित शाह
यात्रा से सिद्धरमैया सरकार सत्ता से बेदखल होगी: फाइल फोटो

बेंगलुरू: भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कर्नाटक में सिद्धरमैया नीत कांग्रेस सरकार पर एक जोरदार हमला करते हुए उस पर भ्रष्टाचार के सारे रिकॉर्ड तोड़ने का आज आरोप लगाया. भाजपा की प्रदेश इकाई की नव कर्नाटक निर्माण परिवर्तन यात्रा का यहां एक रैली में शुभारंभ करते हुए शाह ने दावा किया कि एक सर्वेक्षण में पाया गया है कि यह राज्य सरकार देश में ‘सर्वाधिक भ्रष्ट’है. शाह ने यात्रा का नेतृत्व कर रहे प्रदेश भाजपा प्रमुख बीएस येदियुरप्पा को संभावित मुख्यमंत्री बताया और दावा किया कि इस यात्रा से सिद्धरमैया सरकार सत्ता से बेदखल होगी. उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य को केंद्र सरकार द्वारा जारी किया गया कोष उन लोगों तक नहीं पहुंच रहा, जिन्हें इसका फायदा मिलना है.

भाजपा प्रमुख ने मैसूर के18 वीं सदी के शासक टीपू सुल्तान की जयंती को 10 नवंबर को टीपू जयंती के रूप में मनाये जाने की आलोचना की और दावा किया कि यह वोटबैंक की राजनीति है. उन्होंने दावा किया कि राज्य सरकार 10 नवंबर को भव्यता से कन्नड़ राज्योत्सव (राज्य का गठन दिवस) मनाने की बजाय टीपू जयंती मनाने में बहुत रूचि ले रही है.

यह भी पढ़े- केन्द्र सरकार ने अलग झंडे की मांग को ठुकराया, कर्नाटक सरकार ने राज्य ध्वज के लिए बनाई है समिति

भाजपा टीपू जयंती कार्यक्रम का विरोध कर रही है क्योंकि यह टीपू सुल्तान को एक धर्मान्ध और नृशंस हत्यारे के तौर पर देखती है.

इस 75 दिनों की यात्रा का शुभारंभ बेंगलुरू एग्जीविशन सेंटर मैदान से किया गया. इसका लक्ष्य कांग्रेस सरकार के गलत कार्यों का खुलासा करना है. यह राज्य में सभी 224 विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरेगी. यात्रा 28 जनवरी को बेंगलुरू में संपन्न होगी और इसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी संबोधित करेंगे.

यह भी पढ़े- कर्नाटक सरकार का फैसला, टू व्हीलर से हटाई जाएगी बैक सीट

इस यात्रा में विभिन्न स्थानों पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरूण जेटली और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित भाजपा के कई राष्ट्रीय नेताओं के भाग लेने की उम्मीद है. यात्रा के दौरान भाजपा नेता हर विधानसभा क्षेत्र में जन सभा करेंगे और विकास के लिए एक वैकल्पिक एजेंडा पेश करेंगे.

भाजपा कर्नाटक में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में जीत हासिल कर सत्ता में आने पर नजरें टिकाए हुए है। पार्टी ने दक्षिण में 2008 में अपनी पहली सरकार बनाई थी.