लोक सभा ने 2 अहम कृषि विधेयकों को दी मंजूरी, PM मोदी ने ट्वीट कर कही ये बात

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सदन को आश्वस्त करते हुए कहा कि इन दोनों विधेयकों से फसलों के एमएसपी पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा और किसानों से एमएसपी पर फसलों की खरीद जारी रहेगी.

लोक सभा ने 2 अहम कृषि विधेयकों को दी मंजूरी, PM मोदी ने ट्वीट कर कही ये बात
फ़ाइल फोटो

नई दिल्ली: देश में कृषि सुधार के लिए लोक सभा ने गुरुवार को दो अहम विधेयकों को मंजूरी दे दी. विपक्षी दलों के विरोधों के बीच कृषि उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) विधेयक 2020 और मूल्य आश्वासन पर किसान (बंदोबस्ती और सुरक्षा) समझौता और कृषि सेवा विधेयक 2020 संसद के निम्न सदन में पारित हो गए हैं.

इस मौके पर केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सदन को आश्वस्त करते हुए कहा कि इन दोनों विधेयकों से फसलों के एमएसपी पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा और किसानों से एमएसपी पर फसलों की खरीद जारी रहेगी.

उन्होंने कहा कि किसानों को इन विधेयकों के माध्यम से अपनी मर्जी से फसल बेचने की आजादी मिलेगी. तोमर ने स्पष्ट किया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को बरकरार रखा जाएगा तथा राज्यों के अधिनियम के अंतर्गत संचालित मंडियां भी राज्य सरकारों के अनुसार चलती रहेंगी.

ये भी पढ़ें- किसान बिलों के विरोध में हरसिमरत कौर बादल ने मोदी कैबिनेट से दिया इस्‍तीफा

उन्होंने कहा कि विधेयकों से कृषि क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन आएगा, किसानों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आएगा. खेतीमें निजी निवेश से होने से तेज विकास होगा तथा रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, कृषि क्षेत्र की अर्थव्यवस्था मजबूत होने से देश की आर्थिक स्थिति और सुधरेगी.

मचे घमासान के बीच पीएम मोदी ने स्पष्ट किया कि एमएसपी और सरकारी खरीद की व्यवस्था बनी रहेगी. विधेयकों से किसानों को लाभ होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिलों के विरोध को लेकर कहा कि किसानों को भ्रमित करने में बहुत सारी शक्तियां लगी हुई हैं. प्रधानमंत्री का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब अकाली दल कोटे से नेता हरसिमरत कौर ने विधेयकों का विरोध करते हुए केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है.

प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, ‘लोक सभा में ऐतिहासिक कृषि सुधार विधेयकों का पारित होना देश के किसानों और कृषि क्षेत्र के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है. ये विधेयक सही मायने में किसानों को बिचौलियों और तमाम अवरोधों से मुक्त करेंगे.‘

उन्होंने कहा, ‘इस कृषि सुधार से किसानों को अपनी उपज बेचने के लिए नए-नए अवसर मिलेंगे, जिससे उनका मुनाफा बढ़ेगा. इससे हमारे कृषि क्षेत्र को जहां आधुनिक टेक्नोलॉजी का लाभ मिलेगा, वहीं अन्नदाता सशक्त होंगे.'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘किसानों को भ्रमित करने में बहुत सारी शक्तियां लगी हुई हैं. मैं अपने किसान भाइयों और बहनों को आश्वस्त करता हूं कि एमएसपी और सरकारी खरीद की व्यवस्था बनी रहेगी. ये विधेयक वास्तव में किसानों को कई और विकल्प प्रदान कर उन्हें सही मायने में सशक्त करने वाले हैं.'