लालू के जेल जाने से दुखी राबड़ी ने कहा - साहेब की तबियत खराब रहती है, यही चिंता की बात है

मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि भगवान के घर देर है, अंधेर नहीं है. भगवान जो करेंगे ठीक ही करेंगे.

लालू के जेल जाने से दुखी राबड़ी ने कहा - साहेब की तबियत खराब रहती है, यही चिंता की बात है
लालू प्रसाद के जेल जाने के बाद रविवार को राबड़ी पहली बार मीडिया के सामने आई...(फाइल फोटो)

पटना: चारा घोटाले के एक मामले में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को न्यायिक हिरासत (जेल) में जाने से दुखी पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कार्यकर्ताओं से शांति व भाईचारा बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि भगवान के घर देर है, अंधेर नहीं है. भगवान जो करेंगे ठीक ही करेंगे. लालू प्रसाद के जेल जाने के बाद रविवार को राबड़ी पहली बार मीडिया के सामने आई. लालू की पत्नी राबड़ी ने एक निजी चैनल से बातचीत करते हुए कहा, "साहेब (लालू) की तबियत खराब रहती है, यही चिंता की बात है, यही चिंता ज्यादा है." 

उन्होंने कहा, "मुझे उनके स्वास्थ्य की चिंता है. उनके दिल का ऑपरेशन हुआ है. ये सभी लोग जानते हैं. वे सुबह शाम दवा खाते हैं. वे खुद दवा भी नहीं खाते हैं, वहां किस तरह से दवाएं लेंगे." राबड़ी ने कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा, "ऊपरवाले ने हमारे साथ कभी भी गलत नहीं किया. लालू, बिहार की जनता की ताकत की हैं, तो पार्टी के कार्यकर्ता और बिहार की जनता उनके ताकत हैं." 

चारा घोटाला: तेज प्रताप का ट्वीट, काश लालू प्रसाद 'यादव' भी लालू प्रसाद 'मिश्रा' होते

उन्होंने कार्यकर्ताओं से शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील की. राबड़ी देवी ने कहा कि बिहार की जनता सहित हमसभी को पूरा यकीन था कि लालू प्रसाद को अदालत बरी करेगा, लेकिन दुर्भाग्यवश ऐसा नहीं हो सका. उन्होंने कहा कि अदालत के फैसले पर कोई क्या कर सकता है, कानून का फैसला सर्वोपरि होता है, सबको मान्य होगा. 

उल्लेखनीय है कि रांची में सीबीआई की विशेष अदालत ने शनिवार को चारा घोटाला के एक मामले में लालू प्रसाद को दोषी करार दिया. इस मामले में अदालत तीन तनवरी को सजा सुनाएगी. लालू को फिलहाल रांची के बिरसा मुंडा जेल में रखा गया है.