विदर्भ में कई काम कर रही सरकार, अब अलग राज्य की मांग की जरूरत नहीं: शिवसेना

संपादकीय में कहा गया है, ‘‘विदर्भ में पिछले चार वर्षों में असाधारण रूप से विकसित हुआ है और पिछले 40-50 वर्षों की कमी दूर हुई है.’’ 

विदर्भ में कई काम कर रही सरकार, अब अलग राज्य की मांग की जरूरत नहीं: शिवसेना

मुंबई: शिवसेना ने कहा है कि सरकार के विभिन्न विकास कार्यों से अब विदर्भ का नजारा बदल गया है और इसलिए इस क्षेत्र को अलग राज्य का दर्जा दिए जाने की कोई आवश्यकता नहीं है.

पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में, शिवसेना ने दावा किया कि विदर्भ के नागपुर से लोकसभा सांसद व केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने हाल ही में एक कार्यक्रम में कहा था कि विकास की गति में तेजी आई है, तो ऐसे में अलग राज्य की मांग करना सही नहीं है.

संपादकीय में कहा गया है, ‘‘विदर्भ में पिछले चार वर्षों में असाधारण रूप से विकसित हुआ है और पिछले 40-50 वर्षों की कमी दूर हुई है.’’ 

संपादकीय में कहा गया कि राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस, जो नागपुर से विधायक हैं, ने विदर्भ क्षेत्र में सड़कों, उद्योगों और शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया है.

उसमें कहा गया, ‘‘फड़णवीस ने विदर्भ के विकास के लिए कई सक्षम अधिकारियों को नियुक्त किया और विशेष योजनाओं को वहां लागू करने के लिए बजट में प्रावधान किए गए हैं.’’ 

गडकरी ने 6 मार्च को नागपुर में एक जनसभा में कुछ लोगों द्वारा अलग विदर्भ राज्य के समर्थन में नारे लगाने के बाद नाराजगी जतायी थी.

(इनपुट- भाषा)