West Bengal Political Violence: बीजेपी ने लगाया कार्यकर्ता की पिटाई का आरोप, TMC का इनकार

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में BJP कार्यकर्ता गोपाल की मां ने दावा किया कि उन्हें और उनके बेटे को तृणमूल कांग्रेस (TMC) के गुंडों ने पीटा और ये बात किसी को नहीं बताने की धमकी दी थी. वहीं बीजेपी ने सोशल मीडिया के जरिए कई आरोप लगाए हैं 

West Bengal Political Violence: बीजेपी ने लगाया कार्यकर्ता की पिटाई का आरोप, TMC का इनकार
फाइल फोटो

बैरकपुर: पश्चिम बंगाल (West Bengal) की सियासी जंग में हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है. ताजा मामले में बीजेपी (BJP) ने आरोप लगाया है कि उत्तरी 24 परगना (North 24 Parganas) जिले में उसके एक पार्टी कार्यकर्ता और उसकी बुजुर्ग मां को तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कार्यकर्ताओं ने जमकर पीटा है. वहीं तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने आरोपों से इनकार किया है. सत्ताधारी पार्टी से आए बयान में कहा गया कि बीजेपी बदहवासी में झूठे दावे कर रही है. 

पीड़ित मां का आरोप

गोपाल मजूमदार की मां ने दावा किया कि उन्हें और उनके बेटे को तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने पीटा और यह कि उन्होंने उनके बेटे को इस घटना के बारे में किसी को नहीं बताने की धमकी दी थी. बीजेपी ने अपने सोशल मीडिया पेज पर महिला का चेहरा पोस्ट करते हुए लिखा , ‘बंगाल के लोग उन लोगों को माफ नहीं करेंगे जिन्होंने बंगाल की बेटी पर हमला किया’.

पुलिस ने किया खंडन

लेकिन पुलिस अधिकारी ने दावा किया कि भाजपा समर्थक की मां पर हमला नहीं किया गया और उनका चेहरा किसी बीमारी के कारण सूज गया है. अधिकारी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है और इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों की अब तक पहचान नहीं हो पायी है क्योंकि वे मास्क लगाए हुए थे. उन्होंने कहा घटना की राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता एवं पारिवारिक विवाद समेत सभी कोणों से जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ें- West Bengal Assembly Election 2021: TMC कल जारी कर सकती है कैंडिडेट्स की पहली लिस्ट

टीएमसी का इनकार'

विधान सभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस सीएम ममता बनर्जी को बंगाल की बेटी के तौर पर पेश कर रही है. तृणमूल कांग्रेस प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने ट्वीट किया, ‘TMC सकारात्मक अभियान चला रही है. भाजपा बदहवास है. उसके पास सुशासन के मोर्चे पर ममता बनर्जी का मुकाबला करने के लिए कुछ नहीं है. बंगाल को तो अपनी बेटी चाहिए. फर्जी खबरों की फैक्टरी फिर बेनकाब हुई है'.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.