TMC सांसद नुसरत जहां ने BJP को नसीहत देते हुए 'Love' के लिए कही ये बात

तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसद नुसरत जहां (Nusrat Jahan) ने लव जेहाद (Love Jihad) को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है. नुसरत जहां ने बीजेपी को नसीहत दी है कि धर्म को राजनीति का साधन न बनाए.

TMC सांसद नुसरत जहां ने BJP को नसीहत देते हुए 'Love' के लिए कही ये बात
फाइल फोटो.

कोलकाता: लव जेहाद (Love Jihad) को लेकर तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसद नुसरत जहां (Nusrat Jahan) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है, लव और जेहाद एक साथ नहीं चलेंगे. सांसद नुसरत जहां ने बीजेपी को नसीहत दी है कि धर्म को राजनीति का साधन न बनाए.

‘लव और जेहाद साथ-साथ नहीं चलेगा’
टीएमसी सांसद नुसरत जहां (TMC MP Nusrat Jahan) ने कहा है, ‘प्यार बहुत ही व्यक्तिगत मामला है. हमें कोई नहीं बता सकता है कि किससे प्यार करना है और किससे शादी करना है. नुसरत ने बीजेपी (BJP) को नसीहत देते हुए कहा है, लव और जेहाद साथ-साथ नहीं चलते. यह पर्सनल है. धर्म को राजनीति का साधन नहीं बनाना चाहिए. कोई हमें यह नहीं बता सकता कि क्या खाना चाहिए, क्या पहनना है. किससे प्यार करें और किससे शादी करें?

यह भी पढ़ें: Delhi Riots: Omar Khalid और Sharjeel ने बनाया था 'मुस्लिम स्टूडेंट ग्रुप', इस तरह रची साजिश

बीजेपी पर व्यक्तिगत हमलों का आरोप
नुसरत ने कहा, ‘मैं पहले उन्हें (BJP) बताना चाहती हूं कि बंगाल (West Bengal) क्या है? सबसे पहले, बंगाल की भाषा और संस्कृति सीखें.’ इससे पहले 22 नवंबर को, टीएमसी (TMC) ने आरोप लगाया था कि बीजेपी व्यक्तिगत हमलों के जरिए TMC नेताओं के चरित्र हनन की कोशिश कर रही है, क्योंकि उनके पास जनता को दिखाने के लिए कुछ और नहीं है.

यह भी पढ़ें: Love Jihad के खिलाफ कानून पर Asaduddin Owaisi का आया ये बयान

विकास पर क्यों नहीं होती बहस?
पार्टी प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि टीएमसी (TMC) राजनीतिक क्षेत्र में व्यक्तिगत हमलों के पक्ष में नहीं है. हम चाहते हैं कि राज्य में विकास कार्यों पर बहस होनी चाहिए. चूंकि भाजपा के पास इस संबंध में बात करने के लिए कुछ भी नहीं है, इसलिए वो नकारात्मक टिप्पणियां कर रहे हैं. घोष का यह बयान भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पार्टी के बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) द्वारा 21 नवंबर को की गई टिप्पणी से जोड़कर देखा जा रहा है.

LIVE TV
 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.