विपक्षी एकता में पड़ी दरार! इस दल ने कांग्रेस से किया किनारा, सामने आई ये वजह
X

विपक्षी एकता में पड़ी दरार! इस दल ने कांग्रेस से किया किनारा, सामने आई ये वजह

राज्य सभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा सोमवार को विपक्षी दलों की बैठक बुलाई है, इस बैठक में टीएमसी ने जाने से इनकार कर दिया है.

विपक्षी एकता में पड़ी दरार! इस दल ने कांग्रेस से किया किनारा, सामने आई ये वजह

नई दिल्ली: संसद के शीतकालीन सत्र में सरकार को घेरने से पहले ही विपक्षी खेमे में दरार पैदा हो गई है. सूत्रों के मुताबिक तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने राज्य सभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा सोमवार को बुलाई गई बैठक में शामिल नहीं होने का फैसला किया है. हालांकि वह रविवार को सरकार की बैठक में शामिल हुई थी. सोमवार की बैठक प्रमुख मुद्दों पर सरकार को घेरने के लिए विपक्ष की संयुक्त रणनीति पर चर्चा के लिए बुलाई गई है.

TMC से दूर रहना चाहती है कांग्रेस?

कांग्रेस नेताओं का कहना है कि उन्होंने सभी विपक्षी दलों को आमंत्रित किया, लेकिन इसमें शामिल होना या न होना उन पर निर्भर है. हालांकि कांग्रेस शुक्रवार को 14 विपक्षी दलों को संविधान दिवस समारोह में शामिल न होने के लिए मनाने में सफल रही, लेकिन तृणमूल कांग्रेस से दूरी बनाए रखना चाहती है क्योंकि बनर्जी पश्चिम बंगाल के बाहर अपना आधार बढ़ाना चाहती हैं लेकिन राष्ट्रीय राजनीति में उनके आने से विपक्ष की बड़ी चर्चा बाधित हो सकती है.

क्या है दरार की वजह?

इन दरारों को कांग्रेस द्वारा परोक्ष रूप से निशाना बनाने के साथ देखा जा सकता है और गोवा, असम और मेघालय में अपनी पार्टी के नेताओं को तोड़ने के लिए चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को दोषी ठहराया जा सकता है. बनर्जी ने अपनी हालिया दिल्ली यात्रा पर, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात नहीं की थी.

मेघालय की चोट से 'आहत' कांग्रेस?

हालांकि, संसद के शीतकालीन सत्र से पहले कांग्रेस, सरकार के खिलाफ एक मजबूत गठबंधन बनाने के लिए, तृणमूल से बात कर रही है और इसे भी बोर्ड पर ले जाने की कोशिश कर रही है. लेकिन संदेह बरकरार है क्योंकि मेघालय विभाजन (जहां 17 में से 12 विधायक तृणमूल में चले गए) ने कांग्रेस में हंगामा खड़ा कर दिया है, जो पहले से ही पूर्वोत्तर में भाजपा के हमले का सामना कर रही थी.

यह भी पढ़ें: सर्वदलीय बैठक में शामिल हुए 42 नेता, AAP का वॉकआउट; इन मुद्दों पर चर्चा की मांग

'कांग्रेस हमारी चुनावी सहयोगी नहीं' 

हालांकि संसद में विपक्षी एकता पर टीएमसी के राज्य सभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, 'संसद में विपक्ष की एकता होगी. आम मुद्दे विपक्ष को एकजुट करेंगे.' उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस हमारी चुनावी सहयोगी नहीं है और न ही हम उनके साथ सरकार चला रहे हैं बस इतना सा ही अंतर है.'

(INPUT: IANS)

LIVE TV
 

Trending news