close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

वालमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे के खिलाफ व्यापारियों का संगठन करेगा आंदोलन

संगठन ने रविवार को कहा कि 16 अरब डॉलर के इस समझौते का विरोध प्रवर्तन निदेशालय और भारतीय रिजर्व बैंक के कार्यालयों के बाहर किया जाएगा.

वालमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे के खिलाफ व्यापारियों का संगठन करेगा आंदोलन
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: व्यापारियों के संगठन कैट ने वालमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे के खिलाफ देशभर में आंदोलन शुरू करने की घोषणा की है. संगठन ने रविवार को कहा कि 16 अरब डॉलर के इस समझौते का विरोध प्रवर्तन निदेशालय और भारतीय रिजर्व बैंक के कार्यालयों के बाहर किया जाएगा. अखिल भारतीय व्यापारी परिसंघ (कैट) ने एक बयान में कहा कि व्यापारियों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए केंद्रीय वाणिज्य मंत्री (सुरेश प्रभु) ने आश्वासन दिया था कि इस सौदे और ई-वाणिज्य कंपनियों के खिलाफ दी गई शिकायत को प्रवर्तन निदेशालय और रिजर्व बैंक को भेज दिया गया है. इसलिये कैट ने देशभर में इनके कार्यालयों के बाहर प्रदर्शन करने का निर्णय किया है, ताकि शिकायत को लेकर जांच को तेजी से पूरा करने का दबाव बनाया जा सके.

उल्लेखनीय है कि इस हफ्ते की शुरुआत में प्रभु ने प्रवर्तन निदेशालय से इस मामले में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश नियमों के कथित उल्लंघन की जांच करने के लिए कहा था. कैट ने कहा कि इससे पहले वह भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग से भी कह चुके हैं कि इस मामले में कोई भी निर्णय देने से पहले वह संगठन का पक्ष भी सुने. कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि ई-वाणिज्य नीति पर कल होने वाली थिंकटैंक की बैठक में वह इस गंभीर मुद्दे को उठाएंगे.
कैट की मांग है कि इस सौदे को रद्द किया जाए और ई-वाणिज्य नीति को तत्काल प्रभाव से लागू किया जाए तथा ई-वाणिज्य क्षेत्र पर नजर रखने के लिये एक नियामकीय प्राधिकरण बनाया जाये. 

(इनपुट भाषा से)