ट्रंप हेलसिंकी पहुंचे, पुतिन से मुलाकात करेंगे

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूस के उनके समकक्ष व्लादिमीर पुतिन सोमवार को अपने पहले आधिकारिक सम्मेलन में शिरकत करेंगे. इस दौरान दोनों नेता सीरिया, यूक्रेन संघर्ष, परमाणु निरस्त्रीकरण और 2016 के अमेरिकी चुनावों में रूस के कथित दखल सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर सकते हैं.

ट्रंप हेलसिंकी पहुंचे, पुतिन से मुलाकात करेंगे
फिनलैंड के हेलसिंकी शहर में मिलेंगे अमेरिका व रूस के राष्ट्रपति (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूस के उनके समकक्ष व्लादिमीर पुतिन सोमवार को अपने पहले आधिकारिक सम्मेलन में शिरकत करेंगे. इस दौरान दोनों नेता सीरिया, यूक्रेन संघर्ष, परमाणु निरस्त्रीकरण और 2016 के अमेरिकी चुनावों में रूस के कथित दखल सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर सकते हैं. ट्रंप ब्रिटेन का दौरा समाप्त करने केबाद रविवार रात को स्कॉटलैंड से हेलसिंकी पहुंचे. इन दोनों देशों की बैठक पर पूरी दुनिया की नजर रहेगी. माना जा रहा है कि इस बैठक से निकलने वाले नतीजों का असर पूरी दुनिया पर पड़ेगा.

सम्मेलन से हैं कई उम्मीदें
समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, यह सम्मेलन सोमवार को दोपहर 1.20 बजे राष्ट्रपति पैलेस में शुरू होगा. यह पूरी तरह से पुतिन और ट्रंप की निजी मुलाकात होगी. यह बैठक लगभग डेढ़ घंटे चल सकती है. ट्रंप और पुतिन अपने मंत्रियों और सलाहकारों के साथ वर्किंग लंच भी करेंगे और इसके बाद संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगे. ट्रंप ने इससे पहले कहा था कि उन्हें इस सम्मेलन से कम ही उम्मीदे हैं.

ये भी पढ़ें : ट्रंप ने रूस के राष्ट्रपति पुतिन को लेकर दिया ये बड़ा बयान, जानकर हो जाएंगे हैरान

रूस के साथ खराब संबंधों के लिए एफबीआई जिम्मेदार
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ अपनी शिखर बैठक से पहले माहौल तैयार करते हुए दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों के लिए एफबीआई को जिम्मेदार बताया है. अमेरिका के विशेष अभियोजक रॉबर्ट मूलर की जांच का हवाला देते हुए ट्रंप ने ट्वीट किया है, रूस के साथ हमारे संबंध कभी इतने खराब नहीं रहे, और इसकी वजह वर्षों की अमेरिकी मूर्खता और बेवकूफी तथा निशाना बनाकर की जा रही जांच है.