'टुकड़े-टुकड़े गैंग' से लेकर किसान आंदोलन में खालिस्तानी साजिश तक, Zee News ने दिखाया सच

 Zee News अकेला ऐसा चैनल है जो सत्य के मार्ग पर चलता रहा और हमने निडर होकर किसान आंदोलन का सच पूरे देश को बताया. हमने दिन को रात और रात को दिन नहीं कहा. हमने पहले ही बता दिया था कि किसान आंदोलन हाईजैक हो चुका है और इसमें देश विरोधी विचारों की मिलावट हो गई है.

'टुकड़े-टुकड़े गैंग' से लेकर किसान आंदोलन में खालिस्तानी साजिश तक, Zee News ने दिखाया सच

नई दिल्ली: 26 जनवरी (Republic Day) को राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा के बाद सरकार के सब्र का बांध टूट चुका है. ये कहा जा सकता है कि पिछले 63 दिनों से चल रहा किसानों का ये आंदोलन अब नाज़ुक मोड़ पर है. ये कभी भी खत्म हो सकता है. इसके लिए सरकार ने कमर कस ली है. इतना ही नहीं दिल्ली बॉर्डर के आस-पास के लोग भी अब अपनी सड़कें खाली कराने के लिए आवाज बुलंद कर रहे हैं. दिल्ली के सभी बॉर्डरों पर भारी पुलिसबल तैनात है. 

अब हम सत्य के उस मार्ग के बारे में आपको बताना चाहते हैं, जिस पर शान से चलने वाला झूठ एक ना एक दिन लड़खड़ा कर गिरता जरूर है और जब झूठ की हार होती है तो सत्य का मार्ग बुलंद हो जाता है. हमें ये बताते हुए गर्व हो रहा है कि Zee News अकेला ऐसा चैनल है जो सत्य के मार्ग पर चलता रहा और हमने निडर होकर किसान आंदोलन का सच पूरे देश को बताया. हमने फरमाइशी पत्रकारिता नहीं की. हमने दिन को रात और रात को दिन नहीं कहा. हमने पहले ही बता दिया था कि किसान आंदोलन हाईजैक हो चुका है और इसमें देश विरोधी विचारों की मिलावट हो गई है.

DNA का स्पेशल शो #LalQuilaHamaraHai: सोशल मीडिया पर 48 घंटे में 1.14 करोड़ बार देखा गया

9 फरवरी 2016 को Zee News ने ही सबसे पहले JNU में टुकड़े-टुकड़े गैंग का सच आपको बताया था. CAA प्रोटेस्ट में आतंकी घुसपैठ की जानकारी हमने ही सबसे पहले अपने दर्शकों तक पहुंचाई थी. 27 नवंबर को Zee News ने बिना डरे पूरी दुनिया को बताया कि किसान आंदोलन में खालिस्तानी ताकतें घुस गई हैं. 

आपको याद होगा जब देश का मीडिया किसान आदोलन का महिमामंडन कर रहा था उस समय Zee News ने देश को बताया था कि इस आंदोलन को खालिस्तान समर्थकों का समर्थन है. हम कई सबूतों के साथ देश के सामने आए और सच की डोर नहीं छोड़ी और इसके लिए हमें निशाना भी बनाया गया. आंदोलन में Zee News के खिलाफ एक सरहद बना दी गई. हमें कवरेज करने से भी रोका गया ताकि हम सच को आप तक न पहुंचा सकें. हमें गोदी मीडिया भी कहा गया. हमें ट्विटर पर ट्रोल करने की भी कोशिशें हुईं. हमारे ख़िलाफ़ ऐसे लोगों का एक गुट दीवार बन कर खड़ा हो गया जो नकली और झूठे सिद्धांतों से जुड़ा था. 

LIVE TV देखें

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.