close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केंद्रीय मंत्री नकवी बोले, 'महाराष्ट्र में कोई समस्या नहीं, बीजेपी जल्द ही सरकार बनाएगी'

केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अब्बास नकवी ने शनिवार को कहा कि महाराष्ट्र में कोई समस्या नहीं है, बीजेपी जल्द ही सरकार बनाएगी.

केंद्रीय मंत्री नकवी बोले, 'महाराष्ट्र में कोई समस्या नहीं, बीजेपी जल्द ही सरकार बनाएगी'

प्रयागराज: केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अब्बास नकवी ने शनिवार को कहा कि महाराष्ट्र में कोई समस्या नहीं है, बीजेपी जल्द ही सरकार बनाएगी. नकवी ने यह बात प्रयागराज में पत्रकारों द्वारा महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के बीच जारी सियासी घमासान को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कही. नकवी ने कहा कि हम बिना भेदभाव के विकास की राजनीति में भरोसा करते हैं. नकवी प्रयागराज, संस्कृतिक केंद्र में आयोजित "हुनर शिल्प हाट" में भाग लेने आए थे. 

उधर, केंद्रीय मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के प्रमुख रामदास अठावले (Ramdas Athawale) ने कहा है कि शिवसेना (Shiv Sena) को मुख्यमंत्री पद की मांग छोड़ देनी चाहिए. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी (Bhagat Singh Koshyari) से मुलाकात के बाद उन्होंने यह बात कही. अठावले ने कहा, "आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) के पास राज्य को चलाने का पर्याप्त अनुभव नहीं है इसलिए शिवसेना को अपनी जिद छोड़ देना चाहिए. मैं शिवसेना की मांग का सम्मान करता हूं लेकिन अगर उनके पास और ज्यादा नंबर होते तो स्थिति दूसरी होती. 

राज्यपाल से मुलाकात का ब्यौरा देते हुए अठावले ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल से राज्य की सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी को सरकर बनाने का आमंत्रण देने का अनुरोध किया है. शिवसेना के कांग्रेस और एनसीपी से समर्थन लेने के बारे में उन्होंने कहा कि कांग्रेस के भीतर भी समर्थन देने को लेकर एकराय नहीं है. इसके अलावा, एनसीपी के रुख भी अभी साफ नहीं है. इसलिए फिलहाल कोई प्रस्ताव नहीं है. इसलिए गवर्नर को सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करना चाहिए. उन्होंने देवेंद्र फडणवीस को बुलाना चाहिए और शपथ ग्रहण की तारीख जल्द से जल्द तय करनी चाहिए.

LIVE टीवी:

कुल मिलाकर, महाराष्ट्र में सत्ता के 'टेस्ट मैच' की आखिरी पारी शुरु हो चुकी है. शिवसेना फिफ्टी-फिफ्टी फार्मूले के साथ ही मुख्यमंत्री पद के लिए अड़ी है जबकि बीजेपी साफ कर चुकी है कि अगले 5 साल तक देवेंद्र फडणवीस ही मुख्यमंत्री होंगे और 5 नवंबर को शपथ ग्रहण की तैयारियां भी शुरु कर दी हैं. इस बीच आज शिवसेना ने तेवर और कड़े करते हुए कहा है कि शिवसेना वेट एंड वॉच की भूमिका कभी भी छोड़ सकती है. वहीं संजय राउत बीजेपी नेता सुधीर मुनगंटीवार के राष्ट्रपति शासन वाले बयान पर कहा है कि ये शिवसेना को धमकी देने की कोशिश है. वहीं सुधीर मुनगंटीवार ने कहा है कि शिवसेना को समझना चाहिए कि अगर राज्य में वक्त पर सरकार नहीं बनी तो राष्ट्रपति शासन लग सकता है.