संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस स्वर्ण मंदिर के दर्शन करने पहुंचे

संयुक्त राष्ट्र महासचिव के तौर पर एंतोनियो गुतारेस भारत की पहली यात्रा पर हैं.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस स्वर्ण मंदिर के दर्शन करने पहुंचे
(फोटो साभार@antonioguterres)

अमृतसर: संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस बुधवार को स्वर्ण मंदिर के दर्शन करने पहुंचे. यहां उन्हें गुरुद्वारे के ग्रंथी ने सरोपा भेंट किया. सरोपा को लोग गले में लपेटते हैं, लेकिन इसे सिर पर दस्तार की तरह लपेटा जाना होता है. केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी इस दौरान उनके साथ नजर आएं. वह गुरुद्वारे के रसोईघर में भी गए, जहां उन्होंने लंगर बनता देखा.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव के तौर पर भारत की अपनी प्रथम यात्रा पर आए एंतोनियो गुतारेस ने सोमवार को कहा कि भारत की काफी प्रासंगिक भूमिका के बगैर एक बहुध्रुवीय विश्व बनाना असंभव है. उन्होंने बहुधुव्रीय व्यवस्था में भारत के मजबूत स्तंभ बनने को लेकर भी सराहना की. गुतारेस ने कहा कि भारत बहुध्रुवीय व्यवस्था का एक मजबूत स्तंभ बन रहा है. साथ ही, हम एक बहुध्रुवीय विश्व चाहते हैं, ऐसे में भारत की काफी प्रासंगिक भूमिका के बगैर एक बहुध्रुवीय विश्व बनाना असंभव है.

United Nations antonio guterres visited amritsar golden temple

यूएन हाउस के उदघाटन समारोह में गुतारेस ने कहा कि भारत एक वैश्विक शक्ति बन रहा है और वह विकास की दिशा में व्यापक रूख की हिमायत कर रहा है. उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र को भारत के साथ काम करना चाहिए, इसकी विकास योजनाओं, जलवायु परिवर्तन का मुकाबला करने में इसके नेतृत्व और सतत विकास लक्ष्यों का समर्थन करना चाहिए.

उनकी यह यात्रा महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर मनाए जाने वाले कार्यक्रमों के शुभारंभ के वक्त हो रही है. वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित देश के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात करेंगे और तीन दिवसीय यात्रा के दौरान जलवायु परिवर्तन तथा आतंकवाद जैसे प्रमुख वैश्विक मुद्दों पर उनके चर्चा करने की संभावना है. अपनी यात्रा से पहले संरा प्रमुख ने कहा कि भारत आतंकवाद का मुकाबला करने और हिंसक चरमपंथ को रोकने में संयुक्त राष्ट्र का एक अहम साझेदार है.

(इनपुट-भाषा)