Breaking News
  • #ImmunityConclaveOnZee : केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि कोरोना की दवा पर शोध जारी है.
  • #ImmunityConclaveOnZee : श्रीपद नाइक ने कहा - 6-7 सप्ताह में शोध पूरा हो जाएगा.
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '8 बजे नाश्ता, 12 बजे दोपहर का खाना, शाम को 8 बजे तक खाना खा लें'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'भगवान ने हमें इंसान बनाकर दुनिया की सबसे बड़ी दौलत दी है'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '6 घंटे की नींद जरूर पूरी करें और उससे ज्यादा सोएं भी नहीं'

अनलॉक-2 की गाइडलाइंस जारी, स्‍कूल-कॉलेज 31 जुलाई तक बंद

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अनलॉक-2 की गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. इसके तहत स्‍कूल-कॉलेज 31 जुलाई तक बंद रहेंगे.

अनलॉक-2 की गाइडलाइंस जारी, स्‍कूल-कॉलेज 31 जुलाई तक बंद

नई दिल्‍ली: गृह मंत्रालय ने एक जुलाई से शुरू हो रहे ‘अनलॉक-2’ के लिए दिशानिर्देश जारी किए. गृह मंत्रालय ने कोरोना वायरस प्रतिबंधों पर कहा कि सभी स्कूल और कॉलेज 31 जुलाई तक बंद रहेंगे. पहले की तरह सीमित घरेलू उड़ानें और स्‍पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी. रात के कर्फ्यू का समय बदल दिया गया है. अब यह रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक होगा. ऑनलाइन और दूरस्थ शिक्षा की अनुमति होगी और उन्हें बढ़ावा दिया जाएगा. अनलॉक-1 की अवधि 30 जून को समाप्‍त हो रही थी. इसलिए अनलॉक-2 का ऐलान किया गया है. नई गाइडलाइंस 1 जुलाई से प्रभावी होंगी.

इसके तहत कंटेनमेंट जोन के बाहर के इलाकों में सहूलियत मिलेगी लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन को सख्‍त बनाने का प्रावधान किया गया है. कोरोना वायरस के कंटेनमेंट जोन से बाहर के इलाकों में कई गतिविधियों में छूट होगी. इससे पहले अनलॉक-1 में जारी गाइडलाइंस में कंटेनमेंट जोन से बाहर धार्मिक स्थल, होटल, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल्स को 8 जून से खोलने का आदेश दिया गया था. यह आगे भी जारी रहेगा.

अनलॉक-2 में क्‍या होगा खास?

इनमें कहा गया कि मेट्रो रेल, सिनेमाघर, जिम, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल और ऐसे अन्य स्थल भी बंद रहेंगे. इसी तरह सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, शिक्षण, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रम और अन्य बड़े कार्यक्रमों को अभी मंजूरी नहीं मिलेगी.

दिशा-निर्देशों में कहा गया कि घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों (वंदे भारत मिशन के तहत), जो अभी सीमित रूप में जारी हैं, का चरणबद्ध तरीके से विस्तार किया जाएगा. गृह मंत्रालय ने कहा कि नए दिशा-निर्देश राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से मिले फीडबैक तथा संबंधित केंद्रीय मंत्रियों और विभागों के साथ गहन विचार-विमर्श पर आधारित हैं.

इसने कहा, ‘‘कंटेनमेंट जोन में 31 जुलाई तक लॉकडाउन का कड़ा क्रियानवयन जारी रहेगा. कोविड-19 के प्रसार को रोकने के मद्देनजर राज्यों, केंद्रशासित प्रदेशों को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों पर विचार करने के बाद इन क्षेत्रों का चिह्नीकरण सावधानी से करने की आवश्यकता है.’’ दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि कंटेनमेंट जोन के भीतर कड़ा परिधि नियंत्रण कायम रहेगा और वहां केवल आवश्यक गतिविधियों को अनुमति होगी.

छठे दिन 15000 से अधिक मामले
महाराष्ट्र, दिल्ली और हरियाणा ऐसे उन राज्यों में से हैं जो कोरोना वायरस के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए प्लाज्मा थेरेपी का इस्तेमाल करने पर जोर दे रहे हैं. उधर, देश में लगातार छठे दिन सोमवार को कोविड-19 के नये मामलों की संख्या 15 हजार से अधिक रही. महाराष्ट्र में बिना और रियायत दिये लॉकडाउन की अवधि 31 जुलाई तक बढ़ा दी गई है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सोमवार को कोविड-19 के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए ‘प्लाज्मा थैरेपी- सह-परीक्षण’ परियोजना की शुरूआत की.

राज्य के चिकित्सा शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने इसे दुनिया में अपनी तरह की सबसे बड़ी पहल बताया. इस पद्धति में ऐसे लोगों के रक्त से प्लाज्मा प्राप्त किया जाता है जो इस संक्रमण से उबर चुके हैं. इसके बाद वह प्लाज्मा इलाज करा रहे रोगियों को दिया जाता है.

राष्ट्रीय राजधानी में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोविड-19 से संक्रमित गंभीर मरीजों की जान बचाने के लिए ‘प्लाज्मा बैंक’ स्थापित करने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिये एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि यह बैंक दिल्ली सरकार द्वारा संचालित यकृत एवं पित्त विज्ञान संस्थान में स्थापित किया जाएगा और डॉक्टरों तथा अस्पतालों को मरीज की जरूरत को देखते हुए प्लाज्मा के लिए यहां संपर्क करना होगा.

महाराष्ट्र और दिल्ली इस महामारी से सबसे अधिक प्रभावित है जहां मामलों की संख्या क्रमश: 1,69,833 और 83,077 है और मौतों की संख्या क्रमश: 7,610 और 2,623 है.

महाराष्ट्र में सोमवार को लगातार चौथे दिन कोविड-19 के पांच हजार से अधिक नये मामले सामने आये है. हरियाणा में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 13,829 है जबकि मृतकों की संख्या 223 है.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार भारत में एक दिन में कोविड-19 के 19,459 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 5,48,318 हो गई. वहीं, 380 और लोगों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 16,475 पर पहुंच गया. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार यह लगातार छठा दिन है जब कोरोना वायरस संक्रमण के 15 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं. देश में एक जून के बाद 3,57,783 मामले सामने आ चुके हैं.

मंत्रालय द्वारा अद्यतन आकंड़ों के अनुसार अभी देश में 2,10,120 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि 3,21,722 लोग उपचार के बाद स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं एक मरीज देश से बाहर चला गया है.