यूपी बीजेपी के अध्यक्ष ने हिंसा के मामले में प्रियंका गांधी पर लगाए गंभीर आरोप, दिया ये बयान

स्वतंत्र देव सिंह ने चौंकाने वाला बयान देते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर प्रदेश में हिंसा फैलाने के लिए वित्तीय मदद करने का आरोप लगाया है. 

यूपी बीजेपी के अध्यक्ष ने हिंसा के मामले में प्रियंका गांधी पर लगाए गंभीर आरोप, दिया ये बयान
स्वतंत्र देव सिंह ने प्रियंका गांधी पर लगाए आरोप

बरेली: भारतीय जनता पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने चौंकाने वाला बयान देते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर प्रदेश में हिंसा फैलाने के लिए वित्तीय मदद करने का आरोप लगाया है. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश में हिंसा भड़काने के लिए वह दूसरे प्रदेशों के दंगाइयों को ला रही हैं.

भाजपा नेता ने बरेली में एक जनसभा में कहा, "प्रदेश में पिछले तीन साल से शांति थी और मैं पूछना चाहता हूं कि प्रियंका यहां दंगा क्यों कराना चाहती हैं? वह यह मध्य प्रदेश या राजस्थान में क्यों नहीं करतीं? वह हिंसा के लिए वित्तीय मदद कर रहीं और दूसरे राज्यों से दंगाइयों को ला रहीं और शांति भंग करने के लिए उनसे पत्थरबाजी करवा रही हैं."

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के संदर्भ में उन्होंने कहा, "अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों का उत्पीड़न हुआ तब न तो नेहरू (जवाहरलाल) और न ही मनमोहन सिंह यह काम कर सके. वे दयनीय जीवन जीने के लिए मजबूर थे. पहली बार एक नेता ने यह क्रांतिकारी निर्णय लिया और सीएए सुनिश्चित किया. सीएए का मतलब भारत में अल्पसंख्यक समुदाय के शरणार्थियों को भारत की नागरिकता प्रदान करना है जिससे वे सम्माननीय जीवन जी सकें. वे प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर पा सकें और अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकें."

सिंह ने आगे कहा कि सीएए का मतलब किसी भी भारतीय मुस्लिम की राष्ट्रीयता छीनना नहीं है जैसा कि विपक्ष इस मुद्दे पर लोगों को गुमराह कर रहा है.

उन्होंने आगे कहा, "यहां तक कि राम मनोहर लोहिया ने भी कहा था कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ता है और उन्हें भारत की नागरिकता दी जानी चाहिए. लेकिन समाजवादी पार्टी को अपने संस्थापक के शब्द याद नहीं, क्योंकि उनके नेता सिर्फ परिवार के लिए राजनीति करना चाहते हैं."