close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आजम खान बोले, ताजमहल को डायनामाइट से उड़ाने की तैयारी; यूपी के मंत्री ने किया पलटवार

उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री बलदेव सिंह औलख ने शुक्रवार को शुक्रवार कोम खान की उनके उस बयान के लिये आलोचना की जिसमें उन्होंने कहा था कि ताजमहल को भी उसी तरह 'बर्बाद'' कर दिया जायेगा जैसे बाबरी मस्जिद को 'डायनामाइट लगाकर ढहा दिया गया था''. 

आजम खान बोले, ताजमहल को डायनामाइट से उड़ाने की तैयारी; यूपी के मंत्री ने किया पलटवार
बीजेपी के विधायक संगीत सोम के ताजमहल पर बयान के बाद से बहस छिड़ी हुई है. आजम खान भी इस बयानबाजी में कूद पड़े हैं.

रामपुर: उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री बलदेव सिंह औलख ने शुक्रवार को शुक्रवार कोम खान की उनके उस बयान के लिये आलोचना की जिसमें उन्होंने कहा था कि ताजमहल को भी उसी तरह 'बर्बाद'' कर दिया जायेगा जैसे बाबरी मस्जिद को 'डायनामाइट लगाकर ढहा दिया गया था''. औलख ने आरोप लगाया कि शुक्रवार कोम ने दो समुदायों के बीच तनाव पैदा करने के लिये यह बयान दिया. मंत्री ने कहा कि सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव और पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव को स्पष्ट करना चाहिये कि खान ने ऐसी टिप्पणी क्यों की.

बिलासपुर के विधायक ने पूछा, 'किस आधार पर खान ने बेहद विश्वास के साथ यह कहा कि ताज महल को उड़ा दिया जायेगा जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जोर देकर यह कह चुके हैं कि ताज एक राष्ट्रीय स्मारक, हमारा गर्व और विरासत है.'' पूर्व मंत्री शुक्रवार कोम खान ने 18 अक्टूबर को कहा था, 'यह लगभग तय है कि ताजमहल को नष्ट कर दिया जायेगा क्योंकि जो कुछ भी (इतिहासकार) पी एन ओक ने अपनी किताब में लिखा है वह सबकुछ भारत की फासीवादी ताकतें और संघ लागू कर रहे हैं.'' खान ने कहा था कि ओक ने लिखा था 'अयोध्या में शिव मंदिर हुआ करता था. अगर बाबरी मस्जिद को इसलिये ढहाया जा सकता है क्योंकि लोगों को लगता था कि वहां पहले मंदिर हुआ करता था तब भारत में कोई भी पूजास्थल सुरक्षित नहीं है.''

खान ने कहा था, 'डायनामाइट से बाबरी मस्जिद ढहाए जाने से पहले जिस तरह का माहौल था वह घटना से बहुत पहले बना दिया गया था. उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय का रोक का आदेश था और तत्कालीन मुख्यमंत्री ने अदालत में एक हलफनामा दिया था. इस सबके बावजूद डायनामाइट से बाबरी मस्जिद ढहा दी गयी. '' औलख और खान के बीच जुबानी जंग मई में शुरू हुयी थी जब बीजेपी नेता ने जौहर विश्वविद्यालय के परिसर में अतिथि गृह में जनता दरबार लगाने का इरादा प्रकट किया था. यह विश्वविद्यालय सपा नेता का है.

खान ने इस पर धमकी देते हुए कहा था कि अगर किसी ने इस पर कब्जा करने की कोशिश की तो वह अतिथि गृह को उड़ा देंगे.

औलख ने फोन पर पीटीआई से कहा, 'शुक्रवार कोम खान ने अपने जौहर विश्वविद्यालय के अतिथि गृह को उड़ा देने की धमकी दी थी लेकिन पलटते हुए कहा कि उनके पास डायनामाइट नहीं है. खान क्या कहते हैं और क्या करते हैं , उसमें हमेशा विरोधाभास रहता है. '' औलख ने कहा कि ताज को नेस्तनाबूद करने की साजिश होने की बात कहने के बारे में खान को सबूत पेश करना चाहिए.
इनपुट: भाषा