भारत बंद के दौरान यूपी में 1 की मौत, हिरासत में लिए गए 448 प्रदर्शनकारी

यूपी के डीआईजी लॉ एंड ऑर्डर प्रवीण कुमार के अनुसार प्रदेश में स्थिति नियंत्रण में है. जिलों में हाईअलर्ट घोषित है.

भारत बंद के दौरान यूपी में 1 की मौत, हिरासत में लिए गए 448 प्रदर्शनकारी
डीआईजी लॉ एंड ऑर्डर प्रवीण कुमार ने यूपी में 2 अप्रैल को हुई हिंसा के मामले में दी जानकारी. (फोटो-ANI)

लखनऊ : एससी/एसटी एक्‍ट में बदलाव के विरोध में सोमवार (2 अप्रैल) को यूपी के कई जिलों में भी विरोध-प्रदर्शन हुए. इनमें कुछ जिलों में हिंसा भी भड़की. उत्‍तर प्रदेश के डीआईजी लॉ एंड आर्डर के अनुसार प्रदेश में भड़की हिंसा के दौरान एक व्‍यक्ति की मौत हुई है. इसके साथ ही 35 लोग घायल हुए हैं. इनके अलावा तीन लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं. डीआईजी के मुताबिक हिंसा को लेकर सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने को लेकर जांच की जा रही है. उन्‍होंने यह भी बताया कि सोमवार को भड़की हिंसा में यूपी का महज 10 फीसदी हिस्‍सा ही प्रभावित हुआ है. 90 फीसदी हिस्‍से में शांति का माहौल रहा. डीआईजी ने बताया कि हिंसा के दौरान 448 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया है. बता दें कि एससी/एसटी एक्‍ट में बदलाव के विरोध में यूपी के कई जिलों में हिंसा भड़की थी. इनमें आगरा, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, हापुड़, ग्रेटर नोएडा, सहारनपुर, मेरठ जैसे जिले शामिल हैं.

यह भी पढ़ें : भारत बंद : मायावती ने कहा आंदोलन को समर्थन, हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ हो कार्रवाई

 

डीआईजी लॉ एंड ऑर्डर प्रवीण कुमार ने जानकारी दी कि भारत बंद के दौरान भड़की हिंसा में प्रदेश में कुछ पुलिस‍कर्मी भी घायल हुए हैं. इस समय स्थिति नियंत्रण में है. हालांकि सभी जिलों में हाईअलर्ट घोषित है. उनके अनुसार जहां भी जरूरत पड़ी, वहां पुलिस ने लाठीचार्ज किया और वाटर कैनन का भी इस्‍तेमाल किया. डीआईजी लॉ एंड ऑर्डर के अनुसार कोई भी आरोपी छोड़ा नहीं जाएगा. आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

 

मेरठ में पूर्व विधायक गिरफ्तार
मेरठ में हिंसा भड़काने के आरोप में पुलिस ने बसपा के पूर्व विधायक और मेयर के पति योगेश वर्मा को गिरफ्तार किया गया है. उनकी गिरफ्तारी मेरठ एसएसपी मंजिल सैनी और जिलाधिकारी के आदेश पर की गई है. पुलिस के अनुसार मेरठ में भड़की हिंसा के लिए योगेश वर्मा ही जिम्‍मेदार हैं. पूर्व विधायक पर नेशनल सेक्‍योरिटी एक्‍ट के तहत कार्रवाई करने की बात कही जा रही है. उनकी गिरफ्तारी कंकरखेड़ा थाने में की गई है. एसएसपी के अनुसार हिंसा में शामिल होने और भड़काने के आरोप में 200 से अधिक लोग भी गिरफ्तार किए गए हैं.

यह भी पढ़ें : यूपी में भारत बंद का असर : कई जिलों में हिंसा व आगजनी, मुजफ्फरनगर में 1 की मौत

योगी ने की थी शांति की अपील
मुख्‍यमंत्री योग आदित्‍यनाथ ने SC/ST एक्‍ट में बदलाव के विरोध में यूपी में हो रहे प्रदर्शनों को लेकर दलित संगठनों से शांति की अपील की. उनका कहना है कि राज्‍य और केंद्र सरकार पिछड़ी जातियों के उत्‍थान के लिए प्रयासरत है. उन्‍होंने अपील की है कि कानून व्‍यवस्‍था को नुकसान न पहुंचाया जाए. उनका कहना है कि अगर कहीं भी कोई मुद्दे हैं तो उन्‍हें सरकार तक लाया जाए.