हल्द्वानी में तैयार होने वाले स्टेट कैंसर रिसर्च इंस्टीट्यूट के लिए मिली 10 करोड़ की ग्रांट

उत्तराखंड के हल्द्वानी में भी उत्तर भारत का पहला कैंसर इंस्टिट्यूट बनने जा रहा है. जिसके लिए केंद्र की मोदी सरकार ने बजट भी जारी कर दिया है.   

हल्द्वानी में तैयार होने वाले स्टेट कैंसर रिसर्च इंस्टीट्यूट के लिए मिली 10 करोड़ की ग्रांट
हल्द्वानी में कैंसर इंस्टिट्यूट बनने जा रहा है. जिसके लिए केंद्र सरकार ने बजट जारी कर दिया है.

हल्द्वानी: पहाड़ी राज्य उत्तराखंड (Uttarakhand) के हल्द्वानी (Haldwani) में तैयार होने वाले स्टेट कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट (State Cancer Research Institute) के लिए दस करोड़ की ग्रांट केंद्र सरकार से मिल गई है. बता दें कि केंद्र की मोदी सरकार देश भर के 22 राज्यों में कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट बनवाने जा रही है, इसी कड़ी में हल्द्वानी में भी उत्तर भारत का पहला कैंसर इंस्टिट्यूट बनने जा रहा है. जिसके लिए केंद्र की मोदी सरकार ने बजट जारी कर दिया है. 

बता दें कि हल्द्वानी में तैयार होने जा रहा कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट लगभग 120 करोड़ रुपए की लागत से बनवाया जाएगा. जिसमें कैंसर की सभी तरह की जांचों के साथ ही इलाज भी मुहैया कराया जाएगा. यहां 100 बेड जनरल और नौ बेड का आइसीयू बनाया जाना है. इस कैंसर इंस्टिट्यूट में 19 विभाग खोले जाएंगे. इस इंस्टीट्यूट के खुलने से उत्तराखंड सहित उत्तर प्रदेश के कैंसर के मरीजों को काफी फायदा होगा. बताया जा रहा है कि स्टेट कैंसर रिसर्च इंस्टीट्यूट में सौ से ज्यादा कर्मचारी आउटसोर्स से रखे जाएंगे. 

कैंसर इंस्टिट्यूट सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज के अधीन काम करेगा. स्टेट कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट की स्वीकृति मिलने के बाद भारत सरकार ने पहली किस्त के तौर पर 10 करोड़ रुपए जारी भी कर दिए हैं. उम्मीद जताई जा रही है कि 2 से 3 साल के भीतर इंस्टिट्यूट बनकर तैयार हो जाएगा और लोगों को इसका लाभ भी मिलने लगेगा. हालांकि, वन विभाग की जमीन का पेच अभी भी सुलझा नहीं है. बता दें कि इंस्टिट्यूट के विस्तारीकरण के लिए 14 हेक्टेयर भूमि की भी जरूरत है, जिसके लिए वन विभाग से अधिग्रहण की स्वीकृत लेना अनिवार्य है.