close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बाराबंकी शराब कांड के बाद पूरे राज्‍य में कार्रवाई तेज, वृंदावन में 10 शराब तस्‍कर गिरफ्तार

वृन्दावन के शराबबंदी वाले क्षेत्र में ही अवैध फैक्ट्री स्थापित कर नाजायज रूप से शराब बनाकर सप्लाई करने वाले गैंग का भंड़ाफोड़ करते हुए 10 लोगों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि यहां से बड़े पैमाने पर अवैध शराब बनाकर शराब के ठेकों और अन्य जगह सप्लाई किया करती थी. 

बाराबंकी शराब कांड के बाद पूरे राज्‍य में कार्रवाई तेज, वृंदावन में 10 शराब तस्‍कर गिरफ्तार
पुलिस गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में कर रही है, वहीं फरार आरोपियों की तलाश के लिए दबिश दे रही है.

मथुरा: उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब पीकर मरने की घटनाओं के मद्देनजर मथुरा पुलिस ने शराब माफिया के खिलाफ बड़े पैमाने पर अभियान चलाते हुए वृन्दावन के शराबबंदी वाले क्षेत्र में ही अवैध फैक्ट्री स्थापित कर नाजायज रूप से शराब बनाकर सप्लाई करने वाले गैंग का भंड़ाफोड़ करते हुए 10 लोगों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि यहां से बड़े पैमाने पर अवैध शराब बनाकर शराब के ठेकों और अन्य जगह सप्लाई किया करती थी. वृंदावन धर्म नगरी होने के चलते ड्राईजोन घोषित है. किसी को शक न हो इसकी वजह से इन शराब तस्करों ने वृंदावन इलाके को अवैध शराब की फैक्ट्री बनाने के लिए चुना था.

यह माफिया एक महीने से लगातार अपने अवैध कारोबार को अंजाम दे रहे थे. वृंदावन पुलिस को मुखबिर की सूचना मिली के बिजली घर के पास अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री संचालित की जा रही है, जो बड़े पैमाने पर आस-पास शराब तस्करी का काम कर रही है. 

मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस ने वृंदावन इलाके के बिजली घर के पास छापामार कार्रवाई की. कार्रवाई के दौरान पुलिस ने मौके से 10 शराब तस्करों को मौके से गिरफ्तार कर लिया, जबकि 7 आरोपी मौके से भागने में सफल रहे. पुलिस ने जब पूरे इलाके की छानबीन शुरू की तो पुलिस को वहां भारी मात्रा में शराब बनाने के उपकरण पाए. उसमें पैकिंग की मशीन, केमिकल, स्प्रिट और 3 लग्जरी गाड़ी बरामद की है. जानकारी के मुताबिक, यहां शराब तस्कर स्प्रिड, यूरिया, केमिकल और कलर मिलाकर कई ब्रांडेड कंपनियों की अवैध शराब तैयार करते थे. 

लाइव टीवी देखें

पकड़े गए अभियुक्तों में अलीगढ़ के गांव कुराना, थाना टप्पल निवासी हरेन्द्र उर्फ गौरव पुत्र शिवलाल सिंह, राजकुमार उर्फ पिन्टू पुत्र शिवलाल सिंह, अजय कुमार पुत्र औकार सिंह, सतेन्द्र सिंह पुत्र कर्ण पाल सिंह, मथुरा के थाना मांट के नगला सिरिया निवासी अशोक पुत्र हाकिम सिंह, धर्मेन्द्र सिंह पुत्र हुकम सिंह, राजेश पुत्र हाकिम सिंह, सोनू पुत्र करुआ, राजू पुत्र अतर सिंह, शंकर लाल पुत्र शिवचरन दास निवासी दीवानाकला शामिल हैं. पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है और उन शराब के ठेका को भी चिन्हित कर रही है, जहां यहां से शराब सप्लाई की जाती थी. 

पुलिस ने इनके पास से 55 पेटी देशी व अंग्रेजी अवैध शराब, 2 ड्रम तैयार शराब, डेढ़ किग्रा नशीला पाउडर, 77 कैन स्प्रिट, 15 कैन खाली, एक सील लगाने की मशीन, 12960 खाली बोतलें व पैकिंग का तमाम सामान बरामद हुआ है. एसपी ग्रामीण आदित्य कुमार शुक्ला ने बताया, गैंग के तीन अन्य साथी सुन्दर पुत्र नेम सिंह, गजेंद्र पुत्र महेश, राजकुमार उर्फ रामू पुत्र शंकर लाल फरार हो गए हैं, जिनकी तलाश की जा रही है.