कुशीनगर के बाद सहारनपुर में भी जहरीली शराब हुईं मौतें, CM ने दिए जांच के आदेश

मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी सख्ती दिखाते हुए जांच रिपोर्ट तलब की है. साथ ही दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश दिया है.

कुशीनगर के बाद सहारनपुर में भी जहरीली शराब हुईं मौतें, CM ने दिए जांच के आदेश
मृतकों के घरों में कोहराम मचा हुआ है.

नई दिल्ली/देवबन्द, सैयद उवैस अली: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार शराब के अवैध कारोबारीयों के खिलाफ कार्यवाई करने की ढोल भले ही पीट रही है. लेकिन इस गोरखधंधे को अंजाम देने वाले कारोबारी धड़ल्ले से अपना कारोबार कर रहे है, जिससे आये दिन लोग बेमौत मारे जा रहे है. दो दिन पहले कुशीनगर में जहरीली शराब पीने से अब तक 10 लोगों की मौत हो गई, वहीं पांच से ज्यादा लोग गंभीर हैं. दो दिन बाद ही शुक्रवार (08 फरवरी) को सहारनपुर के अलग-अलग गांव से अब-तक 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य गंभीर बताए जा रहें हैं. मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी सख्ती दिखाते हुए जांच रिपोर्ट तलब की है. साथ ही दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश दिया है.

डीएम सहारनपुर ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख और गंभीर रूप से भर्ती लोगों के लिए 50 हजार की आर्थिक मदद तत्काल देने के आदेश दिए हैं. सीएम योगी ने सहारनपुर के साथ कुशीनगर के जिलाधिकारी को मामले की जांच और प्रभावित व्यक्तियों की समुचित चिकित्सा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया हैं. बताया जा रहा है कि उत्तराखंड से कच्ची शराब लाई गई थी, जिसके सेवन के बाद ये घटना हुई. 

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव आबकारी को इन दोनों जनपद में जिला आबकारी अधिकारियों के खिलाफ विभागीय कार्यवाई का निर्देश दिया हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसके साथ पुलिस महानिदेशक को सहारनपुर तथा कुशीनगर के पुलिस अधिकारियों को दायित्व निर्धारित करने के लिए कहा है. उन्होंने आबकारी और पुलिस विभाग को अवैध शराब से जुड़े लोगों के खिलाफ 15 दिन में संयुक्त अभियान चलाने का भी निर्देश दिया हैं.

सहारनपुर थाना क्षेत्र के गांव उमाही में जहरीली शराब पीने से पांच युवकों की मौत हो गई, जबकि 10 से ज्यादा गंभीर बताए जा रहे हैं. उधर थाना गागलहेड़ी के गांव शरबतपुर में भी जहरीली शराब पीने से तीन युवकों की मौत हो गई है. देवबन्द कोतवाली के गांव सलेमपुर और मायाहेड़ी में 4 की मौत की खबर हैं. इस घटना की जानकारी होने पर पुलिस अफसर मौके पर पहुंचे और घायलों को अस्पताल में पहुंचाया.