LOCKDOWN: ट्रैक के सहारे पैदल बिहार जा रहे थे 16 युवक, पुलिस ने देखा तो...

देश में 16 अप्रैल तक लॉकडाउन घोषित है. रेलवे और हवाई परिचालन पूरी तरह बंद है. जो जहां है वहीं अपने घरो में कैद है. लेकिन इस बीच उत्तर प्रदेश से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है.

LOCKDOWN: ट्रैक के सहारे पैदल बिहार जा रहे थे 16 युवक, पुलिस ने देखा तो...
फाइल फोटो

चंदौली: देश में 16 अप्रैल तक लॉकडाउन घोषित है. रेलवे और हवाई परिचालन पूरी तरह बंद है. जो जहां है वहीं अपने घरो में कैद है. लेकिन इस बीच उत्तर प्रदेश से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. चंदौली में 16 युवक ट्रैक पर चलकर ही बिहार जा रहे थे, जिन्हें पुलिस ने पकड़ लिया.

दरअसल बिहार के समस्तीपुर और छपरा के रहने वाले 16 युवक केरल के कालीकट जिले में एक कंपनी में कार्य करते हैं,  कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद सभी युवक 21 मार्च को केरल से झांसी के लिए निकले थे,  23 मार्च को ट्रेन झांसी पहुंची और लॉक डाउन के कारण उसका संचालन रोक दिया गया. इसके बाद यह सभी 16 युवक 25 मार्च को वाराणसी पहुंचे. लेकिन यहां भी उन्हें मदद नहीं मिली. इसीलिए ये छुपते छिपाते रेलवे ट्रैक के सहारे अपने घर समस्तीपुर और छपरा जाने के लिए निकल पड़े. इस दौरान अलीनगर थाना क्षेत्र के कुचमन गांव के पास लोगों ने इन्हें देख लिया और पुलिस को सूचना दी.

ये भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश पुलिस ने संभल में चलाया 'नमस्ते कोरोना' कैंपेन, हाथ जोड़कर की घर में रहने की अपील

मौके पर पहुंची पुलिस ने युवकों को हिरासत में ले लिया और कुचमन रेलवे स्टेशन ले आई. पुलिस ने कोरोना के खतरे के चलते स्वास्थ विभाग की टीम को सूचना दी. और सभी युवकों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया.  जिसमें सभी निगेटिव पाए गए.  फिलहाल पुलिस युवकों को छपरा भेजने की कार्रवाई में जुट गई है.

WATCH LIVE TV: